सोनीपत के युवक-युवती पर ताबड़तोड़ गोलीबारी

K

बचा लो-बचा लो, मत मारो…अरे कोई तो बचा लो..छोड़ दो….ऐसी चीखों के साथ युवक-युवती इधर से उधर भागते फिर रहे थे और वो लोग थे कि बस गोलियों की बौछार पर उतारू थे| बतादें कि, दिल दहला देने वाली यह घटना देश की राजधानी दिल्ली से सामने आई है| यहां द्वारका इलाके में रह रहे युवक-युवती के घर में घुसकर उनपर कुछ लोगों ने ताबड़तोड़ गोलीबारी को अंजाम दिया| गोलियों की तड़तड़ाहट इतनी तेज थी कि आसपास वाले भी कांप जा रहे थे| गोलीबारी की इस घटना में युवक की मौत हो गई है जबकि युवती गंभीर हालत में अस्पताल में भर्ती है और जिंदगी और मौत से जूझ रही है। युवक पर चार गोलियां दागी गईं थीं और युवती को एक गोली लगी थी|

इधर, मौके पर पहुंची पुलिस घटना को लेकर गहनता से जांच कर रही है| पुलिस आसपास लगे सीसीटीवी कैम्ररों को खंगाल रही है| बताया जाता है कि पुलिस के हाथ एक सीसीटीवी फुटेज भी लगी है जिसमें गोलीबारी की घटना को अंजाम देने वाले कैद हुए हैं| पुलिस हर पहलु से घटना की जांच-पड़ताल कर रही है| घटना के पीछे ऑनर किलिंग की बात भी सामने आ रही है| जिसे लेकर भी पुलिस जांच-पड़ताल में जुटी हुई है| ऑनर किलिंग की बात इसलिए सामने आई है क्योंकि युवक-युवती दोनों ने हाल ही में परिवार के मर्जी के बिना शादी कर ली थी और दोनों हाल ही में दिल्ली द्वारका में रहने आये थे|

सोनीपत के रहने वाले हैं …..

द्वारका ज़िले के डिप्टी पुलिस कमिश्नर संतोष कुमार मीणा ने बताया कि कल 9:30 के आसपास PCR कॉल मिली थी कि एक जोड़े को गोली लगी है। पति को 4 और पत्नी को 1 गोली लगी है। उन्होने बताया कि अस्पताल ने पति को मृत घोषित कर दिया है। पत्नी भर्ती है और उसका इलाज चल रहा है| दोनो सोनीपत के गोपालपुर गांव के रहने वाले हैं। लास्ट अगस्त में इनकी शादी हुई थी। युवक का नाम विनय है और युवती का नाम किरण है| विनय एयरपोर्ट पर काम करता था। जहां तक ऑनर किलिंग की बात है तो इसकी जांच चल रही है|

गोलीबारी पर घर की छत पर भागी किरण और विनय नीचे को भागा….

बताते हैं कि, जब गोलीबारी हो रही थी तो किरण बचते-बचाते घर की छत की ओर भागी| जबकि विनय फौरन घर से बाहर की ओर भागा| इधर, भागकर जब किरण घर की छत पर पहुंची तो वह इतना डरी हुई थी कि उसे समझ नहीं आ रहा था कि वह अब कहाँ जाए| वह छत से अगर नीचे कूदती है तो वह मरेगी….वापस लौटती है तो मार दी जाएगी| जान बचाने के लिए जल्दबाजी में किरण ने अपने घर के पीछे वाले घर की छत पर छलांग लगा दी| लेकिन जबतक किरण ने दुसरे घर पर छलांग लगाई उसे एक गोली लग चुकी थी| उधर, दूसरी तरफ विनय जान बचाकर नीचे की तरफ भागा और गली में जैसे ही निकला उसे एक-एक करके चार गोलियां मार दी गईं|

Share this story