भाजपा नेताओं की गुंडागर्दी पर हुई एफआईआर , सत्ताधारियों की दबंगई से आजिज क्षेत्रवासी

खबरे सुने

मुजफ्फरनगर

विजित त्यागी

कालोनी वासियों की शिकायत पर पहुँची पुलिस का हुआ सत्ता के मद में चूर एक भाजपा नेता से सामना , नेता जी और उनके समर्थकों ने की पुलिसकर्मियों से मारपीट व गालीगलौज , पुलिस ने भाग कर बचाई अपनी जान ।

जी हाँ आपने अक्सर सुना होगा की पुलिस और बदमाशो का आमना सामना हुआ पर यहाँ डीजे की आवाज की शिकायत पर पहुँचे डायल 112 के पुलिसकर्मियों का सामना सत्ताधारी पार्टी के एक नेता जी से हो गया , जिसके बाद नेता जी ने पुलिसकर्मियों से गाली गलौच करते हुए उनके साथ हाथापाई तक कर डाली ।

मामला थाना सिविल लाइन क्षेत्र के रुड़की रोड का है , जहाँ तेज आवाज में डीजे बजने की डायल 112 पर कॉलोनीवासियों ने शिकायत की थी, जिस पर मौके पर पहुंची डायल 112 ने डीजे की आवाज थोड़ी कम करने के लिए कहा गया ।
जिस पर वहां मौजूद वरिष्ठ भाजपा नेता व जिला कार्यकारिणी में वरिष्ठ पदाधिकारी रोहताश पाल व सचिन प्रजापति भड़क गए ,उन्होंने अपना परिचय देते हुए पुलिसकर्मियों को बताया की हम सत्ता के लोग हैं और आवाज किसी भी हालत में कम नहीं होगी, इस बीच भाजपा नेताओ और उनके समर्थकों ने डायल हंड्रेड पर तैनात पुलिस कर्मियों को उनकी “औकात” का अहसास कराते हुए उनके साथ गाली गलौज व हाथापाई की ,मामले को लेकर डायल 112 पुलिस कर्मी के द्वारा भाजपा नेता रोहताश पाल, सचिन प्रजापति, निमिश चंदेल आदि पर   एफआईआर दर्ज कराई गई है।

पुलिस द्वारा सरकारी कार्य मे बाधा , मारपीट व जान से मारने की धमकी का मामला दर्ज किया गया है।


अब देखना दिलचस्प होगा प्रदेश सरकार की कार्यप्रणाली पर प्रश्नचिन्ह लगाने वाले ऐसे नेताओं के खिलाफ भाजपा व सरकार किस प्रकार कार्यवाही कर आमजन व कर्मचारियों में सुशासन का संदेश देती है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.