निर्भीक निर्भया की वकील आई मैदान में , सुलझायेंगी मनीष हत्या कांड की गुत्थी |

खबरे सुने

कानपुर (उत्तर प्रदेश) । वकील सीमा समृद्धि को कौन नहीं जानता है एक निर्भीक और इन्साफ पसंद एडवोकेट जिसने अपने दम पर लड़ाई लड़ कर मज़लूमों को इंसाफ दिलाया चाहे वो निर्भया केस में इंसाफ की लड़ाई हो या हाथरस रेप और मर्डर पीड़िता का केस , बहादुर और निर्भीक वकील सीमा समृद्धि अब मनीष गुप्ता मर्डर केस की पैरवी करेंगी। पिछले महीने गोरखपुर के एक होटल में पुलिस की छापेमारी के दौरान व्यवसायी मनीष गुप्ता की कथित तौर पर हत्या कर दी गई थी और इस मामले में 6 पुलिसकर्मियों को गिरफ्तार किया गया है।

सीमा ने कहा कि वह बिना कोई फीस लिए मनीष गुप्ता का केस लड़ेंगी। उन्होंने कहा कि मृतक मनीष की पत्नी ने उससे मदद की गुहार लगाई थी। उन्होंने कहा कि वह मामले को दिल्ली स्थानांतरित करने की कोशिश करेगी क्योंकि उत्तर प्रदेश पुलिस के जवान इस मामले में शामिल हैं।

इस बीच, मारे गए व्यवसायी की पत्नी मीनाक्षी गुप्ता ने कहा कि राज्य सरकार की सिफारिश के बावजूद अभी तक सीबीआई ने जांच शुरू नहीं की है।

उन्होंने संवाददाताओं से कहा, “अब मैं सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर करने की तैयारी कर रही हूं। मैं सीबीआई की लखनऊ इकाई से जांच नहीं करवाना चाहती हूं। याचिका में मैं सीबीआई की दिल्ली इकाई से जांच कराने की मांग करूंगी।”

मीनाक्षी ने यह भी कहा कि उन्हें एसआईटी से कोई शिकायत नहीं है जो इस समय मामले की जांच कर रही है।

उन्होंने कहा, “एसआईटी अपना काम कर रही है लेकिन गोरखपुर पुलिस सबूतों को नष्ट करने पर आमादा है। अगर महत्वपूर्ण सबूत नष्ट कर दिए जाते हैं, तो यह मामला कमजोर हो जाएगा और आरोपी पुलिसकर्मियों को उनके पापों के लिए दंडित नहीं किया जाएगा, जैसा कि उन्हें होना चाहिए।”

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पहले ही परिवार को आर्थिक मदद दे चुके हैं और मीनाक्षी गुप्ता को कानपुर विकास प्राधिकरण में ओएसडी की नौकरी दे चुके हैं।

Leave A Reply

Your email address will not be published.