कृषि कानून के खिलाफ किसानों की हुंकार, 27 सितंबर को भारत बंद का ये है प्लान

खबरे सुने

संयुक्त किसान मोर्चा की बैठक में कृषि कानून के खिलाफ 27 सितम्बर को पूर्ण रूप से सफल बनाने के लिए रणनीति तय की गयी। किसानों ने सफलता के लिए जिम्मेदारी तय की। किसानों की बैठक में पहुंचे प्रांतीय उद्योग व्यापार मंडल अध्यक्ष राजीव गुप्ता, महामंत्री मनीष किनरा ने बंद को समर्थन देने की घोषणा करते हुए कहा कि व्यापारी किसानों के आह्वान पर बाजार बंद रखेंगे।

तीन कृषि कानूनों को रद करने, एमएसपी की गारंटी देने की मांग की मांग को लेकर किसान एक वर्ष से आंदोलनरत है। संयुक्त किसान मोर्चा के आह्वान पर 27 सितम्बर को भारत बंद का आह्वान किया गया है। शनिवार को मण्डी परिसर में किसानों ने विभिन्न राजनैतिक संगठनों, व्यापारिक संगठनों के साथ बैठक की।

कांग्रेस नगर अध्यक्ष हरपाल सिंह, कांग्रेस नेत्री मालती विश्वास ने बंद का समर्थन किया। वहीं पब्लिक स्कूल एसोसिएशन के अध्यक्ष भुवन भट्ट व राजेश शैली ने कहा कि प्रदेश व जिला स्तर के निर्णय के आधार पर सितारगंज इकाई भी बंद पर अपना निर्णय करेगी। उन्होंने कहा कि सुरक्षा मिलने की स्थिति में निजी स्कूल संचालक बसों का संचालन करेंगे।

Leave A Reply

Your email address will not be published.