खतरनाक सड़कों पर वाहनों चलाना हुआ जानलेवा, देखिये कैसे 50 मीटर खाई में जा गिरा स्कूटी सवार

खबरे सुने

चम्पावत : बाराकोट विकास खंड के चौमेल-सुतेड़ा मार्ग पर सोमवार की सुबह एक स्कूटी लगभग 50 मीटर गहरी खाई में गिर गई। घटना में स्कूटी चालक मामूली रूप से घायल हो गया। लोगों ने घटना के लिए सड़क की बदहाली को जिम्मेदार ठहराते हुए शीघ्र बारिश से क्षतिग्रस्त सड़क को ठीक करने की मांग की है।

मऊ गांव निवासी भुवन अधिकारी सुतेड़ा से अपनी स्कूटी में परिचित के यहां निमंत्रण में जा रहा था। इस बीच वह स्कूटी समेत रोड से 50 मीटर नीचे खाई में गिर गया। घटना में चालक मामूली रूप से घायल हो गया। रास्ते से जा रहे सुतेड़ा गांव के उप प्रधान अमित सिंह ने भुवन को स्कूटी सहित गिरते देख लिया और उन्होंने तुरंत उन्होंने ग्रामीणों को बुलाकर घायल को खाई से निकाला। उप प्रधान ने बताया कि भुवन को मामूली चोटें आई हैं। बाद में ग्रामीणों ने मिलकर स्कूटी को भी खाई से निकाल लिया। घायल को खाई से निकालने में शेखर शर्मा, गंगा सिंह, कुंवर सिंह, कमल किशोर शर्मा, भुवन शर्मा, सुमित कुमार, दिनेश सिंह आदि ने सहयोग किया। ग्रामीणों ने दुर्घटना के लिए सड़क की खराब हालत को जिम्मेदार ठहराया।

बताया कि 19 अक्टूबर की बरसात से सुतेड़ा को जाने वाली सड़क पूरी बह गई है। ग्रामीणों द्वारा दो दिन पूर्व अस्थाई पुल का निर्माण करने का प्रयास किया गया लेकिन उसमें सफलता नहीं मिल पाई। रविवार को लोहाघाट के एसडीएम केएन गोस्वामी ने गांव का दौरा भी किया था, लेकिन अभी भी सड़क ठीक करने का प्रयास नहीं किया जा रहा है। ग्रामीणों ने सड़क की मरम्मत करने की मांग की है। कहा कि सड़क पूरी तरह जानलेवा बन चुकी है। बड़े वाहनों का संचालन नहीं हो पा रहा है, जिससे क्षेत्र के गांवों में खाद्यान्न सहित कई जरूरी चीजों का संकट शुरू हो गया है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.