Home राजनीति बिहार में सरकार पर बढ़ाए कांग्रेस ने हमले, ‘भूलल नइखे बिहार’ के...

बिहार में सरकार पर बढ़ाए कांग्रेस ने हमले, ‘भूलल नइखे बिहार’ के नारे से लगाई सवालों की झड़ी

पटना। बिहार विधानसभा का चुनाव कांग्रेस किसी मंजे हुए योद्धा की तरह लड़ रही है। एक ओर पार्टी सोशल मीडिया पर सरकार पर हमलावर है तो दूसरी ओर उस के स्टार प्रचारक चुनाव मैदान में विरोधियों के खिलाफ मोर्चा संभाले हुए हैं। अब इसी कड़ी को आगे बढ़ाते हुए कांग्रेस ने सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर अपना नया अभियान शुरू किया है। पार्टी ने इस अभियान का नाम भूलल नईखे बिहार दिया है। अपने इस अभियान के जरिए कांग्रेस में सोशल साइट पर अपने विरोधियों के सामने सवालों की झड़ी लगा दी है।

सरकार को आईना दिखाने की कोशिश 

अपने इस नए अभियान के जरिए कांग्रेस लोगों को यह याद दिलाने की कोशिश कर रही है कि कोरोना जैसी महामारी के बाद देश में लगाए गए लॉकडाउन में देश और बिहार ने किस प्रकार दूसरे राज्यों के लौटने वाले श्रमिकों को लाचारी, बेबसी में उनके हाल पर छोड़ दिया था। अभियान के जरिए कांग्रेस सरकार को आईना दिखाने की कोशिश कर रही है। ऐसा पार्टी के प्रदेश प्रवक्ता राजेश राठौर का दावा है। राजेश कहते हैं कि बिहार का चुनाव राहुल-तेजस्वी की सच्चाई वाले गठबंधन और मोदी-नीतीश के बीच ठगबंधन की लड़ाई है। यह चुनाव बिहार के भविष्य को प्रगति के पथ पर ले जाने वाला चुनाव है और इन सब के बीच यहां की जनता पिछले 15 सालों के कुशासन को भूली नहीं है।

नींद में सोती सरकार को नहीं भूला है बिहार…

राजेश कहते है लूट, रंगदारी, हत्या और प्रशासन की चरमराई व्यवस्था को भूला नहीं है बिहार। बाढ़ से घिरा प्रदेश और नींद में सोती सरकार को नहीं भूला है बिहार। चमकी बुखार से मरते बच्चे और लचर स्वास्थ्य सेवाओं को नहीं भूला है बिहार। उद्धघाटन से पहले टूटते पुलों और बांधों में हुए करोड़ों के भ्रष्टाचार को नहीं भूला है बिहार।  शिक्षा सुधारों की चौपट व्यवस्था को नहीं भूला है बिहार। सृजन घोटाले के आरोपियों को अंत अंत तक बचाने के आपके प्रयासों को नही भूला है बिहार

किसानों से उनके अधिकारों को छिनने के प्रयासों को नहीं भूला है बिहार

महिला साक्षरता में बिहार के सबसे निचले पायदान पर होने में आपके योगदान को नहीं भूला है बिहार…। महिला सुरक्षा को लेकर आपकी निष्क्रियता को नहीं भूला है बिहार…। कांग्रेस प्रवक्ता ने कहा कि बिहार चुनाव को देखते हुए सोशल नेटवर्किंग साइट्स पर शुरू किया गया कांग्रेस के यह अभियान जनता में काफी चर्चित हो रहा है। अभियान पर जनता के आ रही प्रतिक्रिया इस बात के संकेत हैं कि बिहार अब बदलाव चाहता है।