सदियों पुराना, पारंम्परिक, जादुई, तेल जिसके अनगिनत फायदे जान कर रह जायँगे दंग

खबरे सुने

हम सभी के घरों में सब्जी बनाने या फिर नॉन-वेज बनाने में सरसों के तेल का इस्तेमाल मुख्य रूप से किया जाता है. कुछ जगहों पर इसे कड़वा तेल के नाम से भी जाता है सरसों का तेल सेहत का खज़ाना है। यह ब्लड सर्कुलेशन को ठीक रखता है, साथ ही बॉडी को हेल्दी भी रखता है। सरसों के तेल में पाचन तंत्र को दुरुस्त रखने का गुण मौजूद है। यह इम्यूनिटी को इम्प्रूव करता है। खाना पकाने के लिए इस्तेमाल होने वाला सरसों का तेल बैक्टीरिया और फंगल इंफेक्शन से भी बचाव करता है। यह मांसपेशियों की वृद्धि और विकास के लिए बेहद उपयोगी है। सरसों का तेल गठिया के कारण होने वाले दर्द और सूजन से निजात दिलाता है। सरसों का तेल बेहतरीन टोनर के रूप में काम करता है। यह सिरदर्द, खांसी और गले की सर्दी जैसी समस्याओं को दूर करने में भी मदद करता है। आइए जानते हैं इतने उपयोगी सरसों के तेल से बॉडी को कौन-कौन से फायदे हो सकते हैं।
आमतौर पर लोग इसे सिर्फ तेल समझकर ही इस्तेमाल करते हैं पर आपको जानकर आश्चर्य होगा कि आयुर्वेद में इसे औषधि की श्रेणी में रखा गया है. सरसों के तेल के अनगिनत फायदे है |
दर्द से राहत दिलाएगा सरसो का तेल:

एक शोध के मुताबिक सरसों का तेल में एलील आइसोथियोसाइनेट पाया जाता है जो दर्द और सूजन को कम करने का काम करता है। इस तेल में ओमेगा 3 फैटी एसिड भी पाया जाता है जो दर्द से राहत पहुंचाता है।
सरसों के तेल में मोनोअनसेचुरेटेड और पॉलीअनसेचुरेटेड फैट पाया जाता है, ये फैट दिल की सेहत के लिए अच्छे माने जाते हैं।
स्किन में किसी भी तरह के इंफेक्शन को कम करता है सरसो का तेल। नवजात शिशुओं की सरसों के तेल से मालिश करने पर उनकी हड्डियां स्ट्रॉन्ग और हेल्दी रहती हैं। लोग सर्दियों में सरसों के तेल से मालिश करते हैं जिससे उनकी स्किन की ड्राईनेस दूर होती है।
सरसों का तेल बालों की सेहत के लिए अच्छा होता है, इसमें ओमेगा 3 फैटी एसिड पाए जाते हैं जो स्कैल्प में हुई किसी भी तरह की सूजन को कम करता हैं। गर्म तेल से अगर सिर की मालिश की जाए तो बाल अच्छे होते हैं।

Leave A Reply

Your email address will not be published.