भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा आज पहुंचे देहरादून, सियासी तनातनी के बाद अहम है दौरा

खबरे सुने

देहरादून। भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा उत्तराखंड के दौरे पर आ हैं। जौलीग्रांट एयरपोर्ट पर सीएम धामी समेत अन्य ने उनका स्वागत किया। जेपी नड्डा देहरादून में गढ़वाल मंडल के सभी 41 विधानसभा क्षेत्रों की चुनावी तैयारियों की समीक्षा करेंगे। साथ ही पार्टी पदाधिकारियों को चुनाव में जीत का मंत्र भी देंगे। वहीं, सीएम धामी ने कहा कि उनका उत्तराखंड आगमन हमेशा ही पार्टी कार्यकर्त्ताओं के लिए प्रेरणादाई रहता है

प्रदेश भाजपा से मिली जानकारी के अनुसार राष्ट्रीय अध्यक्ष नड्डा रविवार सुबह दिल्ली से जौलीग्रांट एयरपोर्ट पहुंचेंगे। इसके बाद वह सड़क मार्ग से देहरादून पहुंचेंगे। दोपहर 12 से शाम पांच बजे तक वह राजपुर रोड स्थित एक होटल में गढ़वाल मंडल के सभी जिलों के जिलाध्यक्षों, जिला प्रभारियों, विधानसभा क्षेत्र प्रभारियों व विस्तारकों के साथ दो चरणों में बैठक करेंगे।

जेपी नड्डा के एयरपोर्ट पर मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी, विधानसभा अध्यक्ष प्रेमचंद अग्रवाल, प्रदेश प्रभारी दुष्यंत गौतम, भाजपा प्रदेश अध्यक्ष मदन कौशिक, कैबिनेट मंत्री सतपाल महाराज,हरक सिंह रावत, सुबोध उनियाल, धन सिंह रावत, विधायक विनोद चमोली, उमेश शर्मा, त्रिवेंद्र सिंह रावत, ऋषिकेश मेयर अनीता ममगाईं समेत कई भाजपा कार्यकर्त्ताओं ने उनका स्वागत किया।

मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने मीडिया से बातचीत में कहा कि राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा का उत्तराखंड आगमन हमेशा ही पार्टी कार्यकर्त्ताओं के लिए प्रेरणादाई रहता है। हमेशा कार्यकर्त्ताओं को उनका मार्गदर्शन मिलता है। रविवार को पूरे दिन भर राष्ट्रीय अध्यक्ष बूथ अध्यक्षों से लेकर सभी अलग-अलग जिलों के कार्यकर्त्ताओं से बात करेंगे। उनका मार्गदर्शन कार्यकर्त्ताओं को मिलेगा, जिससे संगठन को और अधिक गति मिलेगी साथ ही सरकार भी और तेजी से कार्य करेगी।

जेपी नड्डा पहली बैठक उत्तरकाशी, टिहरी, पौड़ी, चमोली व रुद्रप्रयाग के पार्टी पदाधिकारियों की होगी। दूसरी बैठक में हरिद्वार व देहरादून जिलों के पदाधिकारी उपस्थित रहेंगे। इस दौरान वह चुनावी तैयारियों को परखने के साथ ही फीडबैक भी लेंगे। राष्ट्रीय अध्यक्ष नड्डा पार्टी के प्रांतीय पदाधिकारियों से भी चुनाव के संबंध में विचार-विमर्श करेंगे। शाम छह बजे वह दिल्ली रवाना हो जाएंगे।

उत्तराखंड क्रांति दल ने सरकार द्वारा लैपटाप बांटने को गलत एवं अनुचित बताया है। उक्रांद के केंद्रीय प्रवक्ता विजय बौड़ाई ने कहा कि पांच सालों में सरकार जनता के लिए कुछ नहीं कर पाई। अब लैपटाप बांटने के नाम पर वोट पाना चाहती है। उन्होंने कहा कि दल छात्रों को लैपटाप देने का विरोध नही कर रहा है मगर इसे नीति के तहत प्रतिवर्ष दिया जाना चाहिए था ताकि सभी को इसका फायदा मिलता।

राजस्व परिषद में विधानसभा चुनावों के मद्देनजर एक ही स्थान पर तीन साल से अधिक समय से तैनात अधिकारियों के तबादले किए गए हैं। इस कड़ी में 31 वरिष्ठ प्रशासनिक अधिकारी और 28 प्रशासनिक अधिकारियों को इधर से उधर किया गया है। आयुक्त व सचिव राजस्व चंद्रेश कुमार द्वारा इस संबंध में आदेश जारी कर दिए गए हैं।

Leave A Reply

Your email address will not be published.