प्रधानमंत्री आवास योजना में सामने आया बड़ा भृष्टाचार , कार्यवाही के बजाय मिला इनाम

खबरे सुने

बिजनौर

जनपद बिजनौर के शेरकोट से प्रधानमंत्री आवास योजना के लाभार्थियों के साथ हुआ बड़ा भृष्टाचार सामने आया है , जहाँ आवास योजना में लाभ देने के लिए सर्वेयर अनुज पर लाभार्थियों से मोटी रकम वसूलने का आरोप लाभार्थियों द्वारा लगाया जा रहा है।

लाभार्थियों की ओर से सर्वेक्षण कर रहे सर्वेयर व जेई पर भृष्टाचार के गम्भीर आरोप लगाकर उच्च अधिकारियों को प्रार्थना पत्र भी दिए गए पर उसका नतीजा यह हुआ की आरोपी सर्वेयर को शेरकोट से हटा कर जिला मुख्यालय पर अटैच कर , पूरे जनपद में अवैध वसूली की खुली छूट दे दी गयी है।

दरअसल मामला डूडा विभाग द्वारा हायर की गई कम्पनी crative consurtium से जुड़ा है , जिसके कर्मचारी जनपद में  प्रधानमंत्री आवास योजना के लिए सर्वे का कार्य कर रहे है , कम्पनी की जड़े कितनी मजबूत है की जनपद का पूरा प्रशासनिक अमला भी कम्पनी के भृष्टाचार के मामले के बावजूद इस पर कोई कार्यवाही कर पाने में असमर्थ है ।

 

हालांकि इस मामले के तार लंबे जुड़े हो सकते है चूंकि यह अवैध उगाही का धंधा बड़े स्तर पर किया जा रहा है व सिर पर छत मिलने की आस में लोग इसे खुलकर कहने में झिझक रहे है ।

परन्तु जिस सर्वेयर पर भ्रष्टाचार के आरोप लगे हो उसे पूरे जनपद के लिए अवैध उगाही की छूट देना एक बड़ा सवाल खड़ा करता है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.