Home उत्तराखंड श्रेष्ठ कार्यकर्ता प्रखर विधायक खोया है : सीएम

श्रेष्ठ कार्यकर्ता प्रखर विधायक खोया है : सीएम

देहरादून, भाजपा विधायक गोपाल रावत के निधन पर भाजपा प्रदेश मुख्यालय पर सोमवार को एक शोक सभा का आयोजन किया गया इसमें प्रदेश अध्यक्ष श्री मदन कौशिक मुख्यमंत्री श्री तीरथ सिंह रावत समेत तमाम वरिष्ठ भाजपा नेताओं ने स्व. रावत को श्रद्धांजलि दी।
भाजपा प्रदेश अध्यक्ष मदन कौशिक ने कहा कि एक छात्र नेता के रूप में उनसे परिचय था। स्व. गोपाल रावत बड़े आंदोलनकारी के रूप में उभरे थे। उन्होंने गंगोत्री से भाजपा विधायक गोपाल रावत के निधन को भाजपा की बड़ी क्षति बताते हुए कहा कि इसकी भरपाई सम्भव नहीं है। उन्होंने कहा कि गोपाल रावत उत्तरकाशी जिले के लोकप्रिय विधायक थे और आम जनता की सम्स्याओ के लिए सदैव तत्पर रहते थे। वह आखिरी क्षण तक भी वर्चुअल माध्यम से जन समस्याओ के हल के लिए आम जनता और अधिकारियो से जुड़े रहे

श्री कौशिक ने कहा कि उत्तरकाशी नगर पालिका बनाने में पहले उन्होंने जोर दिया, लेकिन विरोध को देखते हुए उन्होंने न बनाने का भी आग्रह किया था। यह एक जन नेता की पहचान होती है। जन प्रतिनिधि के रूप में जो संकल्प ले लेते थे, उसे पूरा करते थे। श्री कौशिक ने कहा कि संगठन ने सरकार बनने के बाद अपना चौथा विधायक खोया है। इससे पूर्व तीन विधायक जा चुके हैं लेकिन गोपाल रावत अंतिम क्षणों तक अपने क्षेत्र के विकास को समर्पित रहे हैं। उन्होंने क्षेत्र के विकास का जो आधार दिया है हम उसको पूर्ण करेंगे।

मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत ने कहा कि गोपाल रावत के रूप में संगठन ने एक प्रखर विधायक और श्रेष्ठ कार्यकर्ता खो दिया है। मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रारंभ में उनका संघ से जुड़ाव नहीं था लेकिन वह जिस ढंग से संघ से जुड़े वह वरिष्ठ कार्यकर्ताओं से प्रभावकारी था। श्री तीरथ सिंह रावत ने कहा कि एक स्वयं सेवक के रूप में वह डॉ. नित्यानंद के सम्पर्क में आये । मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत ने कहा कि डॉ. नित्यानंद को व्यक्तित्व की परख थी और उनकी परख में गोपाल रावत खरे उतरे । उत्तरकाशी के विकास के लिए उन्होंने जो काम किया है वह अपने आप में अनूठा है। हमारी सरकार उनके कामों को आगे बढ़ाएगी। वह संघर्षशील नेता के रूप में थे और हमेशा जनता के लिए लड़ते रहे। पूर्व मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने कहा कि गोपाल सिंह रावत का जाना हृदय विदारक घटना है। गोपाल रावत को अपने क्षेत्र के बारे में पूरी जानकारी थी, जो आम कार्यकर्ता को नहीं होती। उन्होंने जोशियाड़ा पुल बनाने की मांग को विशेष रूप से प्रस्तुत किया था तथा कहा था कि यह पुल उनकी प्रतिष्ठा से जुड़ा है।

श्रद्धांजलि सभा में सांसद नरेश बंसल, मंत्री डॉ. धन सिंह रावत, गणेश जोशी, कार्यालय प्रभारी कौस्तुभानंद जोशी, विधायक एवं पूर्व विधानसभा अध्यक्ष हरबंस कपूर, खजानदास, उमेश शर्मा काऊ, दायित्वधारी राजकुमार पुरोहित, रविंद्र कटारिया समेत तमाम विशिष्ट लोग उपस्थित थे।