भुखमरी की कगार पर बेंगलूरू फिल्म इंडस्ट्री के कलाकार
k

कोरोना महामारी के दौरान लोगों को आर्थिक तंगी का काफी सामना करना पड़ा। रोज कमाकर खाने वाले लोगों के लिए ये समय काफी मुश्किल रहा और अभी तक लोग इससे बाहर आने के लिए जद्दोजहद कर रहे हैं। अब खबर है कि कर्नाटक फिल्म इंडस्ट्री में काम करने वाले फोटोग्राफर्स और मेकअप आर्टिस्ट को काफी समस्याओं का सामना करना पड़ रहा है। काम शुरू न होने के कारण सभी आर्थिक तंगी से जूझ रहे हैं।

दरअसल, इंडस्ट्री में अभी फिल्में बनना शुरू नहीं हुई हैं और ऐसे में लोगों को काम नहीं मिल रहा है। आर्थिक तंगी ने लोगों की कमर तोड़ दी है। मेकअप आर्टिस्ट स्वाति का इस बारे में कहना है कि अभी हमारे पास काफी कम काम है, जिसकी वजह से हम लोगों को पैसे देने में सक्षम नहीं है। हमें निर्देशकों, निर्माताओं से किट मिल रही हैं जो मदद करती हैं।

अभिनेता से नेता बने कर्नाटक के कृषि मंत्री कौरव बीसी पाटिल का इस बारे में कहना है कि मेकअप आर्टिस्ट और फोटोग्राफर्स को इस दौरान काफी नुकसान हुआ है। मैंने श्रम मंत्री से अनुरोध किया है कि सभी के बीच बांटने के लिए 1000 किट दी जाये। मैं उनके लाभ के लिए काम कर रहा हूं।

कोरोना काल और उस दौरान लगे लॉकडाउन के दौरान सिने वर्कर्स की मदद के लिए कई नेता, अभिनेता आगे आए थे। लेकिन अभी भी लोग आर्थिक तंगी से जूझ रहे हैं। धीरे-धीरे सभी कार्य पटरी पर लौट रहे हैं और उम्मीद है जल्द ही फिल्मों के निर्माण का काम भी शुरू हो जायेगा और लोगों को काम और पैसों की समस्या से मुक्ति मिल जाएगी।

Share this story