Home उत्तर प्रदेश गौतमबुद्ध नगर में वार्ड-2 से अनिल दुजाना की पत्नी चुनाव मैदान में...

गौतमबुद्ध नगर में वार्ड-2 से अनिल दुजाना की पत्नी चुनाव मैदान में उतरेगी

ग्रेटर नोएडा। पश्चिम उत्तर प्रदेश के खतरनाक अपराधियों में शुमार अनिल दुजाना ने उत्तर प्रदेश पंचायत चुनाव में एंट्री मारी है। ढाई दर्जन से अधिक मामलों में आरोपित शातिर बदमाश अनिल दुजाना की पत्नी पूजा वार्ड नंबर 2 से चुनाव लड़ने की तैयारी कर चुकी हैं। मिली ताजा जानकारी के मुताबिक, पूजा को चुनाव लड़ाने के लिए परिवार के एक सदस्य ने नामांकन पत्र भी खरीदा है। इसी के साथ गांव में चुनाव की तैयारी भी शुरू हो गई। पूजा जिला पंचायत का चुनाव लड़ेगी।

कुख्यात बदमाश की पत्नी के मैदान में आते ही विरोधियों के पांव के नीचे से खिसकी जमीन

कुख्यात बदमाश अनिल दुजाना की पत्नी पूजा के मैदान में आने से दूसरे प्रत्याशियों के सामने एक बड़ी समस्या खड़ी हो गई है, क्योंकि गैंगस्टर की पत्नी पूजा के समक्ष चुनाव लड़ने की शायद ही कोई हिम्मत दिखाए। जान के डर से शायद यहां पर नामांकन ही नहीं हो और हो भी तो सिर्फ दिखावे के लिए, क्योंकि अनिल दुजाना का खौफ आसपास के इलाकों में भी है, ऐसे में गांव में तो बदमाश को लेकर दहशत व्याप्त रहती है।

बड़ा सवाल, पत्नी पूजा के सामने चुनाव लड़ने की हिम्मत जुटाएगा कौन?

यहां पर बता दें कि अनिल दुजाना पर हत्या, रंगदारी,अपहरण सहित विभिन्न मामलों में 30 से अधिक एफआइआर दर्ज हैं। अनिल दुजाना एक माह पूर्व ही जेल से छूटा है। कहा जा रहा है कि पूर्व में जेल में बंद रहते हुए भी अनिल दुजाना जिला पंचायत का चुनाव जीत चुका है। अब तो वह बाहर है, ऐसे में कोई भी पत्नी पूजा के सामने चुनाव लड़ने की हिम्मत जुटाएगा? इसका लगता नहीं है।

यहां पर बता दें कि पश्चिमी उत्तर प्रदेश के कुख्यात बदमाशों में शुमार अनिल दुजाना ने 3 साल पहले पूजा से सगाई की थी और तकरीबन 2 महीने पहले ही शादी हुई है। फरवरी, 2019 में शातिर अपराधी अनिल दुजाना ने सगाई के लिए कोर्ट से अनुमति मांगी थी और इसकी इजाजत भी मिल गई थी। यह सगाई इंंटरनेट मीडिया में काफी सुर्खियों में रही थी।

अनिल दुजाना ने किया था साहिबाबाद में शूट आउट

अनिल दुजाना गौतमबुद्धनगर जिले का रहने वाला है। उस पर 20 से ज्यादा हत्या, लूट, जानलेवा हमले कई मामले दर्ज हैं। वर्ष 2011 में अनिल दुजाना गैंग ने साहिबाबाद में एक शादी समारोह में शूट आउट किया था, जिसमें तीन लोगों की मौत हो गई थी। इसके अलावा,  जुनपत में 2015 में हुए राजकुमार शर्मा व सरकारी गनर नितिन वर्मा हत्याकांड में अनिल दुजाना साजिश रचने का आरोपी है।