उत्तर प्रदेश मुख्यमंत्री पद के लिए अखिलेश यादव की दावेदारी पक्की , बताई बड़ी वजह।

खबरे सुने

उत्तर प्रदेश, विधानसभा चुनाव मे अभी समय है मगर दावेदार पूरे जोश के साथ तैयार है कि सरकार उनकी ही बनेगी , इसी कड़ी में अखिलेश यादव ने योगी सरकार पर निशाना साधते हुए कहा ये बीजेपी वाले कितना भी छल कपट और झूठ का सहारा ले लें मगर यूपी में सरकार बना पाना नामुमकिन है ।
अखिलेश ने दावा किया कि सरकार बदलने की बात सबसे पहले अधिकारी ही भांप लेते हैं, इसलिए ज्यादातर बड़े अधिकारी अब हमसे संपर्क में आ रहे हैं। उन्होंने कहा कि इससे समझ जाओ सरकार किसकी बन रही है।
अखिलेश से पूछा गया कि वह विमान में प्रियंका गांधी से मिले थे तो उन्होंने कहा कि अब वह अगली बार कोशिश करेंगे कि वह सोशल डिस्टेंसिंग को फालो करें। अखिलेश ने एक सवाल पर कहा कि पूर्वांचल एक्सप्रेसवे की लागत कम कर उसकी गुणवत्ता से समझौता किया गया है। सपा अध्यक्ष ने कहा कि उत्तर प्रदेश और पंजाब के विधानसभा चुनाव के मद्देनजर भाजपा विवादास्पद कृषि कानून वापस ले सकती है और चुनाव के खत्म होने के बाद फिर इसे लागू कर देगी। कुशीनगर में हाल ही में लोकार्पित किए गए अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे के लिए धन व जमीन सपा सरकार में उपलब्ध कराई गई थी। भाजपा नेता उस हवाई अड्डे का उद्घाटन करने नहीं, देखने गए थे और संभव है कि आने वाले दिनों में वे उस हवाई अड्डे को भी बेच डालें। अखिलेश ने कहा मुख्यमंत्री अब कह रहे हैं कि वह छात्रों को टेबलेट बांटेंगे, वह पिछले साढ़े चार सालों से क्या कर रहे थे। सरकार हवाई अड्डे, बंदरगाह, जमीन और अन्य चीजों को निजी कंपनियों के हाथ बेच रही है और उत्तर प्रदेश की मौजूदा सरकार के कार्यकाल में भ्रष्टाचार चरम पर पहुंच गया है। सरकार में मंत्री दूसरे मंत्री पर व अधिकारी दूसरे अधिकारियों पर आरोप लगा रहे हैं। उपमुख्यमंत्री ने मुख्यमंत्री को इस बाबत पत्र लिखा है लेकिन उस पर कुछ होना नहीं

बसपा से निकाले गए राम अचल राजभर व लालजी वर्मा ने समाजवादी पार्टी के साथ आने का ऐलान किया है। इन दोनों नेताओं द्वारा सात नवंबर को अम्बेडकर नगर में रैली का आयोजन किया गया है। इसमें उन्होंने सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव को मुख्य अतिथि के तौर पर आमंत्रित करने के लिए सोमवार को मुलाकात की और उनके संग मंच पर बैठे। भाजपा छोड़ कर समाजवादी पार्टी की सदस्यता ग्रहण करने वालों में बस्ती के त्रयंबक पाठक, इंजीनियर प्रवीन पाठक, पूर्व ब्लाक प्रमुख अरविन्द सिंह, महेश सिंह, शिवशंकर हैं। विनीता सरोज, राष्ट्रीय उपाध्यक्ष महिला सभा लोजपा व फरेंदा विधानसभा क्षेत्र से निषाद पार्टी के पूर्व प्रत्याशी राजकुमार निषाद भी समाजवादी पार्टी में शामिल हो गए। बसपा के आगरा मंडल के पूर्व मंडल अध्यक्ष शकील कुरैशी, पूर्व जोनल इंचार्ज आगरा आजाद सिंह

Leave A Reply

Your email address will not be published.