कारोबारी मनीष गुप्ता की हत्या के बाद पत्नी ने मुख्यमंत्री योगी से मिलने की लगाई गुहार, खाना ना खाने का लिया संकल्प

खबरे सुने

लखनऊ: कानपुर कारोबारी मनीष गुप्ता की पुलिस द्वारा सख्ती और मार पीट के बाद मौत हो जाने के मामले में सियासी खींचातानी के बीच मृतक की पत्नी मीनाक्षी गुप्ता योगी सरकार से लगातार इंसाफ की गुहार लगी रही है। उनका कहना है कि उनके पति की हत्या यूपी पुलिस द्वारा की गई है साथ ही मिनाक्षी ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से मिलने की मांग भी की है और उन्होंने कहा है कि जब तक सीएम से नहीं मिलूंगी तब तक खाना नहीं खाउंगी।

वहीं, पीड़ित परिवार का कहना है कि 6 पुलिसकर्मियों ने मिलकर मनीष की हत्या की है। इस मामले की निष्पक्ष जांच होना चाहिए। मृतक की पत्नी मीनाक्षी ने बताया कि डीएम और एसएसपी पर भरोसा नहीं है। उन पर भी कार्रवाई होनी चाहिए। उन्होंने बताया कि मुख्यमंत्री आज मिलने आ रहे हैं। उनसे गुहार लगाउंगी की इस पूरे मामले की जांच से सीबीआई से कराई जाए।

गौरतलब है कि सोमवार रात रामगढ़ ताल थाना क्षेत्र के एक होटल में कानपुर निवासी 36 वर्षीय रियल एस्टेट कारोबारी मनीष गुप्ता अपने 2 दोस्तों प्रदीप और हरी चौहान के साथ ठहरे थे। देर रात पुलिस होटल में निरीक्षण के लिए पहुंची थी। निरीक्षण के दौरान यह पाया गया कि तीन लोग गोरखपुर के सिकरीगंज स्थित महादेवा बाजार के निवासी चंदन सैनी के पहचान पत्र के आधार पर एक कमरे में ठहरे हुए हैं। संदेह होने पर पूछताछ के दौरान कथित रूप से पुलिस द्वारा पिटाई की गई उसके गंभीर रूप से घायल मनीष की संदिग्ध हालात में गोरखपुर मेडिकल कॉलेज में मौत हो गई थी। वहीं इस मामले में परिजनों ने पुलिस पर पिटाई का गंभीर आरोप लगाया है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.