अधिकारी के घर चोर को मिली नाकामी के बाद चोर ने चिट्ठी लिखकर दी नसीहत

खबरे सुने

मध्य प्रदेश के एक चोर की नाराज़गी जायज़ अधिकारी के घर मेहनत मशक्कत के बाद चोरी करने गये चोर के हाथ लगी निराशा ,देवास में दिन-ब-दिन चोरों के हौसले बुलंद होते जा रहे हैं. शहर में कई वारदात को अंजाम दे चुके इन चोरों के हौसलों का अंदाजा इस बात से ही लगाया जा सकता है कि अब ये अधिकारियों के घर को भी अपना निशाना बनाने से नहीं चूक रहे हैं.बीती रात कुछ चोरों ने सिविल लाइंस स्थित डिप्टी कलेक्टर के घर को अपना निशाना बनाया, लेकिन घर में चोरों को चुराने लायक कुछ भी नहीं मिला तो बदमाश चोर डिप्टी कलेक्टर के नाम एक चिट्ठी लिखकर छोड़ गए और उसमें लिखा, ”जब पैसे नहीं थे तो लॉक नहीं करना था कलेक्टर.”
दरअसल, यह चोर डिप्टी कलेक्टर त्रिलोचन गौड़ के देवास की सिविल लाइंस स्थित शासकीय घर पर वारदात को अंजाम देने पहुंचे थे. त्रिलोचन गौड़ वर्तमान में देवास जिले के खातेगांव एसडीएम हैं और करीब 15 दिन से अपने देवास स्थित घर नहीं आए थे.
जब कल रात वह आए तो देखा कि घर का पूरा सामान बिखरा पड़ा हैं व कुछ नकदी और चांदी के जेवरात गायब हैं, जिसकी सूचना उन्होंने पुलिस को दी. हालांकि, मामले में अधिकारी कैमरे के सामने कुछ भी बोलने से बच रहे हैं. वहीं पुलिस ने अज्ञात चोरों के खिलाफ प्रकरण दर्ज कर उनकी तलाश शुरू कर दी है.

Leave A Reply

Your email address will not be published.