Home उत्तराखंड न्यायालय से हुए दोष दोषमुक्त कैबिनेट मंत्री हरक सिंह रावत

न्यायालय से हुए दोष दोषमुक्त कैबिनेट मंत्री हरक सिंह रावत

रुद्रप्रयाग। कैबिनेट मंत्री डॉ. हरक सिंह रावत को अपर जिला जज की अदालत ने वर्ष 2012 में हुए विधानसभा चुनाव में आचार संहिता के उल्लंघन के मामले में दोषमुक्त कर दिया है। सोमवार को जिला न्यायालय रुद्रप्रयाग में कैबिनेट मंत्री डॉ. रावत पेश हुए। सुनवाई पूरी होने के बाद अपर जिला जज नंदन सिंह राणा की अदालत ने कैबिनेट मंत्री हरक सिंह रावत को चुनाव आचार संहिता के उल्लंघन मामले में दोषमुक्त किया।

कैबिनेट मंत्री हरक सिंह रावत के अधिवक्ता केपी खन्ना ने बताया कि डॉ. रावत ने न्यायालय द्वारा पूर्व में दिए गए सभी निर्देशों का पालन किया। विदित हो कि विधानसभा चुनाव 2012 में रुद्रप्रयाग विधानसभा से कांग्रेस पार्टी से चुनाव लड़ने वाले डॉ. हरक सिंह रावत को आचार संहिता उल्लंघन के मामले में दोषी पाया गया था।

बीते वर्ष 10 नवंबर को जिला कोर्ट में मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट शहजाद अहमद वाहिद ने आईपीसी की धारा 143 के मामले में दोषी पाते हुए तीन माह की जेल और एक हजार रुपये अर्थदंड की सजा सुनाई थी, जबकि धारा 147 और 353 में दोषमुक्त कर दिया था। डा. रावत ने सजा के विरूद्ध बीते वर्ष 4 दिसंबर 2020 को अपर जिला जज की अदालत में याचिका दायर की थी। जिसके तहत सुनवाई पूरी होने के बाद कैबिनेट मंत्री हरक सिंह रावत के पक्ष में फैसला आया है।