Home Uncategorized बुराड़ी में हुआ अभाविप के 66वे राष्ट्रीय अधिवेशन के सजीव उद्घाटन सत्र...

बुराड़ी में हुआ अभाविप के 66वे राष्ट्रीय अधिवेशन के सजीव उद्घाटन सत्र का आयोजन।

नई दिल्ली

जिस बीज को वर्ष 1949 में डाला गया था आज वो वट वृक्ष हो चुका है। अगर उत्तर से दक्षिण और पूर्व से पश्चिम के विश्वविद्यालयों एवं महाविद्यालयों में भारत माता की जय और वन्दे मातरम् का उद्घोष सुनाई देता है तो उसके पीछे बस एक संगठन है जिसका नाम है “अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद्”, राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की छात्र इकाई।
एक ऐसा संगठन जिसके कार्यकर्ता ना सिर्फ पूरे वर्ष छात्रों के बीच उनकी अधिकारों की लड़ाई लड़ते है बल्कि केरल और अन्य राज्यों में अपनी इसी राष्ट्रवादी विचारों के कारण अपनी जान की बाजी भी लगा देते है। यह एक ऐसा संगठन है जो विचारधारा की लड़ाई अग्रिम पंक्ति पर खड़ा होकर लड़ रहा है। व्यक्ति निर्माण में इस संगठन के योगदान को बस इसी बात से समझा जा सकता है की आज आप कहीं भी जाइए, किसी भी विभाग और कार्य क्षेत्र में जाइए, इस संगठन के व्यक्ति आपको हर जगह मिल जाएंगे।


आज नागपुर में हो रहे अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के 66 वें राष्ट्रीय अधिवेशन, जो कोरोना महामारी के कारण डिजिटल हो रहा है, बुराड़ी जिले में इसका सजीव उद्घाटन सत्र कार्यक्रम आयोजित हुआ, जिसमें मुख्य वक्ता के रूप में पीयूष पुष्कर जी का रहना हुआ।
मुख्य अतिथि के रूप में सुधीर राणा जी( पार्षद पति कादीपुर मंडल) और शक्ति सिंह जी पूर्व अध्यक्ष दिल्ली विश्वविद्यालय) का रहना हुआ।।
इस उत्कृष्ट आयोजन के लिए बुराड़ी जिले के विद्यार्थी परिषद् के सभी कार्यकता व विशेष रूप से विद्यार्थी परिषद् के एरिया वर्किंग के उत्कृष्ट कार्य के लिए प्रशांत मिश्रा जी एवं यश त्यागी जी का अभूतपूर्व सहयोग मिला