Home उत्तराखंड एनसीआर के 66 पर्यटकों को बगैर कोरोना टेस्ट के अल्मोड़ा से वापस...

एनसीआर के 66 पर्यटकों को बगैर कोरोना टेस्ट के अल्मोड़ा से वापस लौटाया

अल्मोड़ा : कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर तेज होते ही जिले के बॉर्डर पर लॉकडाउन जैसे दिन लौट आए हैं। बगैर रिवर्स ट्रांसक्रिप्शन पॉलिमर्स चेन रिएक्शन (आरटीपीसीआर) टेस्ट कराए बाहरी राज्यों से सैरसपाटे को 16 वाहनों से पहुंचे करीब 66 लोगों को बैरंग लौटा दिया गया। इनमें ज्यादातर दिल्ली व बरेली के साथ ही नोएडा, गाजियाबाद, हरियाणा, फरीदाबाद, हापुड़, गुरुग्राम आदि शहरों के पर्यटक थे। वहीं दूसरे राज्यों से पहुंचे 13 अन्य लोगों की थर्मल स्क्रीनिंग व आरटीपीसीआर टेस्ट के बाद होम आइसोलेशन पर रहने की हिदायत दी गई।

कोरोना संक्रमण के दोबारा रफ्तार पकडऩे से डीएम नितिन सिंह भदौरिया के निर्देश पर लोधिया बैरियर पर सख्ती शुरू हो गई है। बगैर आरटीपीसीआर टेस्ट के बाहरी राज्यों व शहरों के लोगों का प्रवेश प्रतिबंधित कर दिया गया है। शुक्रवार को बैरियर पर स्वास्थ्य विभाग के साथ ही पुलिस का दल मुस्तैद रहा। जागेश्वरधाम, कौसानी, अल्मोड़ा, बागनाथ आदि पर्यटन स्थलों की सैर को पहुंचे विभिन्न राज्यों से पहुंचे 66 लोगों को वापस लौटा दिया गया। ये लोग आरटीपीसीआर टेस्ट कराए बगैर उत्तराखंड पहुंचे थे। इधर, पुलिस की मौजूदगी में स्वास्थ्य विभाग की टीम ने शाम तक 80 वाहनों को रोक यात्रियों की कोरोना रिपोर्ट जांची। जिनके पास आरटीपीसीआर टेस्ट रिपोर्ट नहीं थी, उन्हें लौटा दिया गया।

अल्मोड़ा में निर्वाचन आयोग के पर्यवेक्षक कोरोना संक्रमित 

पहाड़ में कोरोना संक्रमण का सामुदायिक प्रसार फिर डराने लगा है। यहां सल्ट उपचुनाव के लिए पुणे से पहुंचे भारत निर्वाचन आयोग के व्यय पर्यवेक्षक कोरोना संक्रमित पाए गए। उन्हें सुशीला तिवारी राजकीय चिकित्सालय हल्द्वानी में आइसोलेट कर दिया गया है। हालांकि व्यय पर्यवेक्षक के संपर्क में रहे चार अन्य अधिकारियों की रिपोर्ट निगेटिव आई है। जिले में 11 अन्य लोग भी संक्रमित मिले हैं।