सुप्रीम कोर्ट: आज नौ नए जजों को एक साथ शपथ दिलाएंगे सीजेआई, देश के इतिहास पहली बार होगा ऐसा
आज नौ नए जजों को एक साथ शपथ दिलाएंगे सीजेआई, देश के इतिहास पहली बार होगा ऐसा

नई दिल्ली। देश के प्रधान न्यायाधीश (सीजेआइ) एनवी रमना मंगलवार को तीन महिला न्यायाधीश सहित नौ नए जजों को उच्चतम न्यायालय के न्यायाधीश के रूप में पद की शपथ दिलाएंगे।

सुप्रीम कोर्ट के इतिहास में पहली बार एक साथ नौ जज लेंगे पद की शपथ

शीर्ष अदालत के इतिहास में यह पहली बार है जब नौ न्यायाधीश एक साथ पद की शपथ लेंगे। शपथ ग्रहण समारोह उच्चतम न्यायालय के अतिरिक्त भवन परिसर के सभागार में होगा। परंपरागत रूप से नए न्यायाधीशों को पद की शपथ प्रधान न्यायाधीश के अदालत कक्ष में दिलाई जाती है।

नौ नए जजों के शपथ लेने के साथ सुप्रीम कोर्ट में सीजेआई समेत जजों की संख्या बढ़कर हो जाएगी 33

मंगलवार को नौ नए न्यायाधीशों के शपथ लेने के साथ उच्चतम न्यायालय में प्रधान न्यायाधीश सहित न्यायाधीशों की संख्या 33 हो जाएगी। सर्वोच्च न्यायालय में सीजेआइ समेत कुल 34 न्यायाधीश हो सकते हैं।

शपथ ग्रहण समारोह का डीडी न्यूज, डीडी इंडिया पर होगा सीधा प्रसारण

शीर्ष अदालत के जनसंपर्क कार्यालय द्वारा जारी प्रेस विज्ञप्ति में कहा गया है, यह भारत के उच्चतम न्यायालय के इतिहास में पहली बार है, जब नौ न्यायाधीश एक बार में पद की शपथ लेंगे। शपथ ग्रहण समारोह का डीडी न्यूज, डीडी इंडिया पर सीधा प्रसारण किया जाएगा और लाइव वेबकास्ट सुप्रीम कोर्ट के आधिकारिक वेब पोर्टल के होम पेज पर भी उपलब्ध होगा।

न्यायमूर्ति नागरत्ना सितंबर 2027 में पहली महिला प्रधान न्यायाधीश बनने की कतार में

शपथ लेने वाले नौ नए न्यायाधीशों में न्यायमूर्ति अभय श्रीनिवास ओका, विक्रम नाथ, जितेंद्र कुमार माहेश्वरी, हिमा कोहली और बी. वी. नागरत्ना शामिल हैं। इसके अलावा न्यायमूर्ति सीटी रविकुमार, एमएम सुंदरेश, बेला एम त्रिवेदी और पीएस नरसिम्हा को भी पद की शपथ दिलाई जाएगी। न्यायमूर्ति नागरत्ना सितंबर 2027 में पहली महिला प्रधान न्यायाधीश बनने की कतार में हैं।

Share this story