सपा के लिए चुनौती नहीं ओवैसी, बस वोटों की संख्या में पहुंचा सकते हैं क्षति- शफीकुर्रहमान
sp

मुरादाबाद। ओवैसी की पार्टी AIMI उत्तर प्रदेश चुनाव में अपनी किस्मत आजमाने को बेचैन है। ओवैसी ने इससे पहले पश्चिम बंगाल चुनाव में भी अपने हाथ आजमाए लेकिन जीत हासिल नहीं कर पाए। इस बार ओवैसी का टारगेट उत्तर प्रदेश में होने जा रहे चुनाव पर है। लेकिन क्या ओवैसी उत्तर प्रदेश में जीत हासिल कर पाएंगे? उनसे यूपी में पहले से ही हाथ आजमा चुकी और जीत का स्वाद भी चख चुकी राजनीतिक पार्टियों को कितनी चुनौती का सामना करना पड़ सकता है? ऐसे ही एक सवाल के जवाब में सम्भल से सपा सांसद डॉ. शफीकुर्रहमान बर्क ने कहा कि ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन के राष्ट्रीय अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी समाजवादी पार्टी के लिए कोई चुनौती नहीं है। क्योंकि वह अभी तक उस स्थिति में नहीं हैंं कि कहींं से चुनाव जीत जाएंं, लेकिन कुछ वोट काटकर वह पार्टी को नुकसान जरूर पहुंचा सकते हैं। वह सपा से घबराए हुए हैं। एक सवाल पर सम्भल लोकसभा क्षेत्र से सपा सांसद डा. बर्क ने कहा कि हमारी कोशिश यह है कि सभी पार्टी मिलकर समाजवादी को जीत दिलाए। यूपी का चुनाव अगर एक बार सपा जीत गई तो फिर लोकसभा चुनाव हम जीत जाएंगे।

सपा के साथ जो भी जुड़ना चाह रहा है उनका पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश स्वागत कर रहे हैं और यह भी भरोसा दिला रहे हैं कि सरकार बनने के बाद युवाओं को नौकरी मिलेंगी। एआइएमआइएम पार्टी उत्तर प्रदेश में कुछ भी खास नहीं कर पाएगी। उसका यहां कोई वजूद नहीं है। रही चुनाव लड़ने की बात तो वह कोई भी कहीं से लड़ सकता है। लेकिन जीतता वही है जिसे जनता चाहती है। इसलिए ओवैसी से हमारी समाजवादी पार्टी को कोई खतरा नहीं है। हां इतना जरूर हैै कि ओवैसी की पार्टी ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन के उम्मीदवार वोट जरूर काट सकते हैं। सांसद बर्क ने कहा कि ओवैसी प्रदेश का विधानसभा चुनाव लड़ने से पहले सपा से घबराए हुए हैं। यही कारण है कि वे अनर्गल बयानबाजी कर रहे हैं।

सरकार का पुतला फूंकने का प्रयास कर रहे कांग्रेसी गिरफ्तार : कृषि कानूनों को लेकर सरकार के खिलाफ किसानों के साथ धरना दे रहे उत्तर प्रदेश कांग्रेस यूथ के प्रदेशाध्यक्ष ओमवीर सिंह यादव की रिहाई को लेकर युवा कांग्रेस जिलाध्यक्ष व अन्य कार्यकर्ता नारेबाजी करते नेहरू चौराहे पर पहुंचे। जहां पर प्रदेश सरकार का पुतला फूंकने की सूचना पर पुलिस भी मौके पर पहुंच गई। जहां कांग्रेस कार्यकर्ताओं व पुलिस के बीच पुतला फूंकने को लेकर काफी खींचतान भी हुई। बाद में पुलिस युवा कांग्रेस जिलाध्यक्ष को हिरासत में कर थाने ले आयी।

युवा कांग्रेस जिलाध्यक्ष काजी हम्माद मुबीन के नेतृत्व में बुधवार को कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने युवा कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष ओमवीर सिंह यादव की गिरफ्तारी के विरोध में कस्बे नेहरू चौराहे पर एकत्रित हुए। जहां पर उन्होंने प्रदेश सरकार के खिलाफ प्रदर्शन कर पुतला फूंकने का प्रयास करने लगे। इसी बीच जानकारी मिलने पर पुलिस मौके पर पहुंच गई। जहां पर पुतला फूंकने को लेकर पुलिस और कार्यकर्ताओं के बीच में काफी देर तक नोकझोंक होती रही। बाद में पुलिस ने पुतले को छीन लिया। पुलिस युवा कांग्रेस के जिलाध्यक्ष के साथ कई कार्यकर्ताओं को हिरासत में कर थाने ले आयी।

हम्माद मुबीन ने कहा कि प्रदेश सरकार ने युवा कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष ओमवीर सिंह यादव को किसानों के साथ विरोध करने पर जेल भेज दिया है। हम लोग इसका विरोध करते हैं। क्योंकि कांग्रेस किसानों के साथ खड़ी है, अगर किसानों के साथ खड़ा होना या उनकी मांग उठाना गलत है, तो यह गलती हम बार-बार करेंगे। इस तानाशाही सरकार के जुल्म आगे हम नहीं झुकेंगे। कोतवाल विकास सक्सेना ने बताया कि हम्माद मुबीन के खिलाफ धारा 188 में मुकदमा दर्ज कर लिया है।

Share this story