भारती सिंह- करियर की शुरुआत में गलत तरीके से छूते थे लोग
j

कॉमेडियन भारती सिंह ने इंडस्ट्री में कितने संघर्षों के बाद अपनी जगह बनाई है। भारती सिंह लोगों को पल भर में गुदगुदाने-हंसाने का दम रखती हैं। लेकिन हाल ही में कॉमेडियन के कुछ खुलासे सुनकर हर कोई हैरान है। भारती सिंह ने अपनी पर्सनल लाइफ से जुड़े कई राज शेयर किए हैं, जो शायद ही अब तक कोई जानता हो। भारती के संघर्ष और उनके फर्श से अर्श तक पहुंचने की कहानी किसी प्रेरणा से कम नहीं है। इसी दौरान उन्होंने बताया है कि किस तरह से वो अपने करियर की शुरुआत में अपनी मां के साथ सेट पर जाया करती थीं। इसके पीछे एक खास वजह थी। 

हाल ही में मनीष पॉल के पॉडकास्ट चैट शो में भारती सिंह ने अपनी पर्सनल लाइफ से जुड़ी कई बातें लोगों से साझा कीं। भारती सिंह ने बताया कि वह शोज में अपनी मां को साथ लेकर जाती थीं। लोगों द्वारा किए गए एक्शन्स को वह कई बार समझ ही नहीं पाती थीं। वो लगभग हर शो में अपनी मां को साथ लेकर जाती थीं।

भारती सिंह ने कहा, 'मेरी मां मेरे साथ शोज में जाती थीं। उस समय पिता यंग टैलेंट के साथ ट्रैवल करते थे, लेकिन मेरे साथ मां करती थीं। लोग कहते थे कि आंटी चिंता मत करिए, हम आपका ध्यान रखेंगे। मुझे मॉर्डन चीजों के बारे में बहुत कम जानकारी थी। किसी ने मेरी कमर पर हाथ रगड़ा, मुझे नहीं पता चला कि यह लड़कियों के लिए गलत तरह से छूना माना जाता है। जो कॉर्डिनेटर्स जो आपको पैसा देते हैं, आपकी कमर पर हाथ रगड़ते हैं। मैं जानती हूं कि यह अच्छी फीलिंग नहीं होती है, लेकिन वह मेरे अंकल समान हैं। वह गलत नहीं हो सकते। मुझे लगता था कि मैं गलत हूं और वह सही हैं। मैं उस समय नहीं जानती थी कि ये चीजें खराब होती हैं।'

भारती आगे कहती हैं, 'भगवान ने हर महिला को एक पावर दी है, जिसमें वह समझ सकती हैं कि सामने वाले इंसान की इंटेंशन क्या है। जब किसी के इरादे ठीक नहीं लगते है तो महिला को पता चल जाता है। मुझे अब लगता है कि मैं बेवकूफ थी जो इन चीजों को समझती ही नहीं थी।'

भारती सिंह कहती हैं, 'उस वक्त करियर के शुरुआत में मुझे इसके खिलाफ बोलने की मेरे अंदर हिम्मत नहीं थी। मैं अब अपने बारे में आवाज उठाना जानती हूं। अपनी बॉडी के लिए लड़ाई करना जानती हूं। लड़ाई करने की मेरे अंदर हिम्मत आ गई है। मेरे अंदर हिम्मत आ गई है यह बोलने की और पूछने कि की आप क्या देख रहे हो? हम सभी अब बाहर निकलते हैं, खुद की जिंदगी अपने मुताबिक जीते हैं। मैं खुद के लिए बोल सकती हूं। उस समय जब मेरे साथ शोज में ऐसा होता था तो खुद का स्टैंड नहीं ले पाती थी।'

इसके पहले भारती ने कहा था, 'मेरी जिंदगी में केवल मेरी मां ही थी, पिता नहीं थे, जब मैं दो साल की थी तो उनकी डेथ हो गई थी। मैंने उन्हें देखा तक नहीं, ना ही मेरे घर में उनका कोई फोटो है, मैं उनकी कोई तस्वीर घर में लगाने नहीं देती। मेरी बहन और भाई को पिता का प्यार मिला है लेकिन मुझे नहीं। लेकिन मुझे तो अपने भाई तक का प्यार नहीं मिला क्योंकि सब अपने-अपने काम में बिजी थे। अब शादी के बाद जब मुझे अपने पति हर्ष का प्यार मिला तो समझ आता है कि कोई लड़का आपकी केयर करता है ना तो कैसे करता है।'

Share this story