फिर बढ़ी गोल्ड की गुंडई ,सोने के दामो मे उछाल, जानिए क्या है नए भाव
gold

पिछले कुछ दिनों से जिस तरह से महंगाई बढ़ रही थी इस महंगाई के बढ़ते दौर में अगर कोई चीज सस्ती थी तो वह था सोना, यानी आज के लिए सुनहरा अवसर था जब आप अपने लिए चुनिंदा गहने बनवा सकते थे।

पिछले कुछ दिनों लगातार सोने की दामों में गिरावट के बाद अचानक उसने फिर उछाल लिया है। एक बार फिर से सोने के दामों में तेजी का दौर शुरू हो गया है।

इस कारोबारी हफ्ते के शुरुआत यानी 6 सितंबर को सोने और चांदी की कीमतों में तेजी दर्ज की गई है।

सोमवार को सोने की कीमत में 288 रुपये प्रति 10 ग्राम की तेजी दर्ज की गई। इस बढ़त के साथ सोना 47534 रुपये प्रति 10 ग्राम के स्तर पर पहुंच गया। इससे पहले शुक्रवार को सोना 47246 रुपये प्रति 10 ग्राम के स्तर पर बंद हुआ था।

सोमवार को सोने के साथ-साथ चादी की कीमत में भी बढ़ोतरी हुई। चांदी 1482 रुपये प्रति किलो महंगा हुआ। इसके साथ चांदी 64957 रुपये प्रति किलो के स्तर पर पहुंच गई। इससे पहले शुक्रवार को चांदी 63475 रुपये प्रति किलोग्राम के स्तर पर बंद हुई।

इस बढ़त के साथ सोना सोमवार को अपने ऑलटाइम हाई से करीब 8666 रुपये प्रति 10 ग्राम रुपये सस्ता बिक रहा है। सोने ने अपना ऑलटाइम हाई अगस्त 2020 में बनाया था। उस वक्त सोना 56,200 रुपये प्रति दस ग्राम के स्तर तक चला गया था। वहीं चांदी 15023रुपये प्रति किलो सस्ता बिक रही है। चांदी का अबतक का उच्चतम स्तर 79980 रुपये प्रति किलो है।

सोमबार को फिलहाल भारतीय सर्राफा बाजार में 24 कैरेट वाला सोना 47534 रुपये प्रति 10 ग्राम, 23 कैरेट वाला सोना 47344 रुपये प्रति 10 ग्राम, 22 कैरेट वाला सोना 43541 रुपये प्रति 10 ग्राम, 18 कैरेट वाला सोना 35651 रुपये प्रति 10 ग्राम और 14 कैरेट वाला सोना 27807 रुपये प्रति 10 ग्राम के स्तर पर ट्रेड कर रहा है 

22 कैरेट और 18 कैरेट गोल्ड जूलरी के खुदरा रेट जानने के लिए 8955664433 पर मिस्ड कॉल दे सकते हैं. कुछ ही देर में एसएमएस (SMS) के जरिए रेट्स मिल जाएंगे। इसके साथ ही लगातार अपडेट्स की जानकारी के लिए www.ibja.co पर देख सकते हैं।

अगर आप अब सोने की शुद्धता जांचना चाहते हैं तो इसके लिए सरकार की ओर से एक ऐप बनाया गया है। बीआईएस केयर ऐप से ग्राहक सोने की शुद्धता की जांच कर सकते हैं। इस ऐप के जरिए आप न सिर्फ सोने की शुद्धता की जांच कर सकते हैं, बल्कि इससे जुड़ी कोई शिकायत भी कर सकते हैं।

आपको बता दें कि 24 कैरेट सोना सबसे शुद्ध होता है, लेकिन 24 कैरेट गोल्ड की ज्वेलरी नहीं बनती है। आम तौर पर ज्वेलरी बनाने के लिए 22 कैरेट सोने का इस्तेमाल किया जाता है, जिसमें 91.66 फीसदी सोना होता है। अगर आप 22 कैरेट सोने की ज्वेलरी लेते हैं तो आपको पता होना चाहिए कि इसमें 22 कैरेट गोल्ड के साथ 2 कैरेट कोई और मेटल मिक्स किया गया है।

गहने यानी ज्वेलरी में शुद्धता को लेकर हॉलमार्क से जुड़े 5 तरह के निशान होते हैं, और ये निशान ज्वेलरी में होते हैं। इसमें से एक कैरेट को लेकर लेकर होता है। अगर 22 कैरेट की ज्वेलरी होगी तो उसमें 916, 21 कैरेट की ज्वेलरी पर 875 और 18 कैरेट की ज्वेलरी पर 750 लिखा होता है। वहीं अगर ज्वेलरी 14 कैरेट की होगी तो उसमें 585 लिखा होगा। आप खुद ज्वेलरी में इस निशान को देख सकते हैं।

आपको बता दें कि सोना खरीदते समय उसकी क्वॉलिटी का ध्यान जरूर रखें। हॉलमार्क देखकर ही सोने के गहनों की खरीदना चाहिए। हॉलमार्क सोने की सरकारी गारंटी है और भारत की एकमात्र एजेंसी ब्यूरो ऑफ इंडियन स्टैंडर्ड (BIS) हॉलमार्क का निर्धारण करती है। हॉलमार्किंग योजना भारतीय मानक ब्यूरो अधिनियम के तहत संचालन, नियम और रेग्युलेशन का काम करती है।

Share this story