सामने आया रणजी ट्रॉफी का शेड्यूल, एक ही ग्रुप में मजबूत मुंबई-कर्नाटक और दिल्ली
सामने आया रणजी ट्रॉफी का शेड्यूल, एक ही ग्रुप में मजबूत मुंबई-कर्नाटक और दिल्ली

नई दिल्ली। अगले साल पांच जनवरी से शुरू होने वाले रणजी ट्राफी के नए सत्र का आयोजन छह शहरों में किया जाएगा। इस दौरान प्रत्येक टीम को अपने प्रत्येक मैच से पहले पांच दिन के अनिवार्य क्वारंटाइन में रहना होगा। बीसीसीआइ ने ये भी जानकारी दी है कि सभी टीमों को ज्यादा से ज्यादा 30 सदस्यों को अपने साथ रखने की अनुमति होगी, जिसमें 20 क्रिकेटर और 10 सपोर्ट स्टाफ के सदस्य शामिल होंगे।

ग्रुप आफ डेथ कहे जाने वाले ग्रुप-सी में सितारों से सजी मुंबई, कर्नाटक और दिल्ली की टीमें हैं, जिनके साथ कई बार की चैंपियन हैदराबाद, महाराष्ट्र और उत्तराखंड भी शामिल हैं। पिछले साल की उप विजेता बंगाल को आसान ग्रुप मिला है। वह ग्रुप-बी में विदर्भ, हरियाणा, केरल, त्रिपुरा और राजस्थान के साथ है। गत विजेता सौराष्ट्र, तमिलनाडु, रेलवे, जम्मू-कश्मीर और गोवा ग्रुप-डी में हैं। ग्रुप-ए भी उतना ही मजेदार है, जहां गुजरात, पंजाब, हिमाचल प्रदेश, मध्य प्रदेश, सर्विसेज और असम की टीमें हैं।

ग्रुप-ई में आंध्र प्रदेश, उत्तर प्रदेश, बड़ौदा, ओडिशा, छत्तीसगढ़ और पुडुचेरी हैं। प्लेट ग्रुप में चंडीगढ़, मेघालय, बिहार, नगालैंड, मणिपुर, मिजोरम, सिक्किम और अरुणाचल प्रदेश की टीमें हैं। ग्रुप-ए के मैच मुंबई, बी और सी के बेंगलुरु, डी के अहमदाबाद, ई के तिरुअनंतपुरम और प्लेट ग्रुप के चेन्नई में होंगे। बीसीसीआइ ने इस बार कई घरेलू टूर्नामेंट आयोजित करने का फैसला किया है, जिसमें रणजी ट्राफी के अलावा सैयद मुश्ताक अली टी20 टूर्नामेंट भी शामिल है।

भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड यानी बीसीसीआइ ने डे-वाइज शेड्यूल तैयार कर लिया है और सभी राज्य संघों को मेल भेजकर इस बात के लिए पूछा है कि कौन-कौन सा स्टेडियम मुकाबलों के लिए तैयार है। बीसीसीआइ ने इसके लिए एक सितंबर तक की मोहलत दी है। बीसीसीआइ ने ये भी जानकारी दे दी है कि रणजी ट्राफी के 2021-22 के सत्र के नाकआउट मुकाबले कोलकाता में खेले जाएंगे। वहीं, मुश्ताक अली टी20 टूर्नामेंट के नाकआउट मैच दिल्ली में आयोजित किए जाएंगे।

Share this story