सौतेले पिता को पापा न कहने पर मिली तालिबानी सजा, मासूम का जलाया प्राइवेट पार्ट
सौतेले पिता को पापा न कहने पर मिली तालिबानी सजा, मासूम का जलाया प्राइवेट पार्ट

कुचेसर। पति की मौत होने के बाद दूसरे व्यक्ति के साथ शादी कर रह रही महिला के बेटे के साथ सौतेले पिता ने मारपीट कर प्राइवेट पार्ट पर जलती बीड़ी दाग दी। मासूम का कसूर सिर्फ इतना था कि स्कूल में उसने सौतेले पिता को पापा कहने से मना कर दिया था। एसपी ने थाने पहुंचे मासूम को चिकित्सीय परीक्षण के लिए भिजवाया है। मामले में देर रात तक रिपोर्ट दर्ज नहीं हुई थी। जानकारी के अनुसार कुचेसर चौपला पर किराए पर रहे रहे एक परिवार में शुक्रवार दोपहर को एक मासूम बच्चे के चीखने की आवाज सुनकर पड़ोसी ने 112 पर कॉल कर दी। पुलिस ने घर पर जाकर देखा तो आठ साल के बच्चे को बेरहमी से पीटा गया था। लोगों का आरोप है कि सौतेले पिता ने बच्चे के प्राइवेट पार्ट पर जलती बीड़ी लगाई है। 

शाम को एसपी ने की सुनवाई

पुलिस मामले को छिपाती रही और दोपहर से शाम तक बच्चा यूं ही घूमता रहा। पति का फेवर लेकर मां ने भी बच्चे का साथ नहीं दिया। यह खबर जब सोशल मीडिया पर चली तो एसपी दीपक भूकर ने संज्ञान लिया और शाम के समय थाना बाबूगढ़ पहुंच गए। बच्चे की पीड़ा सुनने के बाद पुलिस को मेडिकल कराने के निर्दश दे दिए। जिसके बाद बच्चे को मेडिकल के लिए भेज दिया गया। पति को थाने में बैठा लिया गया और पत्नी को बाहर भेज दिया गया।

पापा न कहने पर दी सजा

लोगों का कहना है कि 8 साल का बच्चा जब स्कूल गया तो मास्टर के पूछने पर साथ गए सौतेले पिता के पापा होने से इंकार कर दिया। जिस कारण घर आकर सौतेले पिता ने उसको सजा दी। बताया गया है कि यह परिवार मेरठ के गंगानगर का रहने वाला हैं, जो थाना बाबूगढ़ के गांव रहता था। परंतु एक पखवाड़े से कुचेसर चौपला पर किराए के मकान में रह रहे थे। महिला के पति की हार्ट अटैक से इसी वर्ष मौत हो गई। जिसके बाद उसने दूसरे युवक से शादी कर ली थी। हापुड़ एसपी दीपक भूकर ने बताया कि मेडिकल के लिए बच्चा भेज दिया है, रिपोर्ट आने के बाद कार्रवाई की जाएगी।

Share this story