देश के प्रथम नागरिक के स्वागत के लिए तैयार राम नगरी
देश के प्रथम नागरिक

लखनऊ। रामनगरी अयोध्या में यूं तो प्रति वर्ष एक करोड़ से अधिक श्रद्धालु आते हैं और इनमें सामान्य जन से लेकर विभिन्न क्षेत्रों के दिग्गज होते हैं, पर यह दूसरी बार है, जब कोई राष्ट्रपति अयोध्या आ रहे हैं। वर्ष 1983 में तत्कालीन राष्ट्रपति ज्ञानी जैल सिंह भी अयोध्या आए थे, जबकि वर्तमान राष्ट्रपति की यात्रा श्रीराम और रामनगरी की अस्मिता को राष्ट्र की अस्मिता से जोड़ कर देखी जा रही है। राष्ट्रपति के दर्शन के समय रामलला गुलाबी रंग की नई पोशाक में होंगे। रामलला का दर्शन-पूजन करने के बाद राष्ट्रपति रुद्राक्ष का पौधा रोपित करेंगे।

पौराणिक रामनगरी अयोध्या देश के प्रथम नागरिक यानी राष्ट्रपति राम नाथ कोविन्द के स्वागत के लिए तैयार है। उनके रामनगरी में प्रथम आगमन को ऐतिहासिक बनाने की पूरी तैयारी कर ली गई है।रविवार को प्रेसीडेंशियल स्पेशल ट्रेन से अयोध्या पहुंचेंगे।

अपडेट्स...

-राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद का काफिला लखनऊ चारबाग रेलवे स्टेशन पहुंचा। चंद मिनटों में प्रेसीडेंशियल ट्रेन से अयोध्या के लिए रवाना होंगे ।

राष्ट्रपति राम नाथ कोविन्द रामनगरी में चार घंटा दस मिनट तक रहेंगे। रविवार सुबह नौ बज कर दस मिनट पर लखनऊ के चारबाग रेलवे स्टेशन से वह प्रेसीडेंशियल ट्रेन से अयोध्या के लिए प्रस्थान करेंगे। सुबह 11:30 बजे राष्ट्रपति प्रेसीडेंशियल ट्रेन से अयोध्या जंक्शन पहुंचेंगे। 11:40 बजे राज्यपाल आनंदीबेन पटेल एवं मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ साथ में सड़क मार्ग से राष्ट्रपति रामकथा पार्क के लिए प्रस्थान करेंगे। 11:50 पर वह रामकथा पार्क पहुंचेंगे, 11:50 से दोपहर 12 बजे तक का समय आरक्षित रहेगा। दोपहर 12 से एक बजे के मध्य वह रामकथा पार्क में आयोजित रामायण कान्क्लेव का उद्घाटन एवं संस्कृति तथा पर्यटन विभाग की विभिन्न परियोजनाओं का शिलान्यास व लोकार्पण करेंगे। 12:45 बजे राष्ट्रपति का संबोधन होगा। दोपहर 12:55 बजे राष्ट्रगान के उपरांत एक बजे राष्ट्रपति रामकथा पार्क से यात्री निवास के लिए प्रस्थान करेंगे। यात्री निवास में एक बज कर पांच मिनट से दो बजकर 15 मिनट का समय आरक्षित रहेगा। राष्ट्रपति मंदिर निर्माण की प्रगति जानेंगे। दो बजकर 20 मिनट पर यात्री निवास से प्रस्थान कर दो बजकर 35 मिनट पर वह हनुमान गढ़ी पहुंचेंगे। दो बजकर 35 मिनट से तीन बजकर 15 मिनट के दौरान राष्ट्रपति हनुमान गढ़ी व रामलला का दर्शन एवं श्रीराम जन्मभूमि परिसर में पौधारोपण करेंगे। तीन बजकर 15 मिनट पर श्रीराम जन्मभूमि परिसर से प्रस्थान कर राष्ट्रपति तीन बजकर 25 मिनट पर अयोध्या जंक्शन पहुंचेंगे। तीन बजकर 40 मिनट पर राष्ट्रपति प्रेसीडेंशियल ट्रेन से लखनऊ के लिए रवाना होंगे।

राष्ट्रपति राम नाथ कोविन्द का अयोध्या में प्रथम आगमन होने जा रहा है, उनकी सुरक्षा के लिए तैयार की गई वीवीआइपी फ्लीट में 36 वाहन शामिल होंगे। इसके अलावा राज्यपाल की फ्लीट में 16 और इतने ही वाहन मुख्यमंत्री की फ्लीट में शामिल रहेंगे, राष्ट्रपति के पीछे राज्यपाल और फिर मुख्यमंत्री की फ्लीट रहेगी। इनके पीछे दोनों डिप्टी सीएम की फ्लीट होगी, जिसमें 14 वाहन शामिल होंगे। फ्लीट में वाहनों की संख्या को सुरक्षा के दृष्टिकोण से बढ़ाया भी जा सकता है। इसके लिए अतिरिक्त वाहनों की भी व्यवस्था की गई है।

Share this story