विंध्याचल में बड़ा हादसा, गंगा में नाव पटलने से तीन बच्चों समेत छह डूबे
विंध्याचल में बड़ा हादसा, गंगा में नाव पटलने से तीन बच्चों समेत छह डूबे, रांची से दर्शन करने आया था परिवार

मीरजापुर। विंध्याचल धाम स्थित अखाड़ा घाट पर गंगा स्नान कर दूसरे तट से लौटते समय नाव डूबने के कारण एक परिवार के रिश्तेदार समेत 12 लोग डूबने लगे। नाविक व गोताखोरों की मदद से छह लोगों को बचा लिया गया, लेकिन अन्य छह लोग लापता हैं। लापता लोगों की तलाश में नाविक व गोताखोर लगे हुए हैं।

झारखंड में रांची के थाना व ग्राम धुरहा निवासी राजेश तिवारी (35) पुत्र भुवनेश्वर तिवारी अपने परिवार व रिश्तेदारों के साथ मां विंध्यवासिनी का दर्शन-पूजन करने के लिए विंध्याचल आए थे। दोपहर को सभी 12 लोग नाव पर सवार होकर गंगा स्नान करने के लिए दूसरे तट पर गए थे। वहां गंगा स्नान करने के बाद सभी लोग नाव से वापस लौटने लगे। इसी बीच बारिश के साथ ही तेज हवा चलने लगी। ऐसे में नाव अनियंत्रित होकर पलट गई। नाव डूबती देख सभी लोग चीख-पुकार करने लगे। इसे सुनकर आसपास के नाविक व गोताखोर पहुंच गए।

नाव पर राजेश तिवारी के परिवार व रिश्तेदार समेत 12 लोगों के साथ ही नाविक व फोटोग्राफर समेत 14 लोग सवार थे। इनमें राजेश (35), विकास (28), दीपक (27), वाहन चालक (अज्ञात), अल्का (09), रितिका (07) को बचा लिया गया है। नाव में सवार गुड़िया (28), खुशबू (30), अनीषा (26), सत्यम (05) सहित एक बच्चा (ढाई माह) व एक बच्ची (03 माह) डूब गए हैं। इस दौरान क्षेत्राधिकारी पुलिस बल सहित मौके पर मौजूद रहे। स्थानीय नाविक एवं गोताखोरों की मदद से डूबे हुए छह लोगों की तलाश गंगा में की जा रही है ।

Share this story