ठप रहा निकायों में कामकाज, नगर निकाय कर्मचारी एक दिवसीय हड़ताल पर, जानिए वजह

ठप रहा निकायों में कामकाज, नगर निकाय कर्मचारी एक दिवसीय हड़ताल पर, जानिए वजह

देहरादून। नगर निकाय कर्मियों की सामूहिक बीमा योजना के वर्ष 2014 से लंबित भुगतान को जल्द जारी करने और अन्य मांगों को लेकर सोमवार को प्रदेश के समस्त ननगर निकाय कर्मचारी एक दिन की हड़ताल पर हैं। इससे सभी ननगर निगमों, पालिका और नगर पंचायत में कामकाज ठप है। नगर विकास कर्मचारी महासंघ ने 20 सितंबर से प्रदेशव्यापी बेमियादी हड़ताल की चेतावनी दी है। बेमियादी हड़ताल के दौरान समूचे प्रदेश में सफाई व्यवस्था ठप करने का एलान भी किया गया है।

देहरादून नगर निगम में तालाबंदी के बाद नगर विकास कर्मचारी महासंघ के प्रदेश अध्यक्ष नाम बहादुर और महामंत्री प्रदीप कुमार वर्मा ने कहा कि वर्ष 2014 से कर्मचारियों को सामूहिक बीमा के लंबित देयकों का भुगतान नहीं किया गया है। राजस्व एवं सफाई निरीक्षक संवर्ग की पदोन्नति सूचि तक जारी नहीं की गई और राज्य कर्मचारियों के समान मकान किराये का भत्ता देने का शासनादेश भी जारी नहीं हुआ है। महासंघ ने इन मांगों को पूरा करने समेत राज्य सरकार स्वास्थ्य योजना लागू करने, चतुर्थ श्रेणी कर्मचारियों को केंद्रीयकृत सेवा में पदोन्नति का मौका देने, राज्य कर्मचारियों के वेतन की तरह निकाय कर्मचारियों का वेतन कोषागार के माध्यम से देने, निकायों में रिक्त पदों पर नियमित नियुक्ति देने की मांग की हुई है।

महासंघ के अनुसार इन मांगों को लेकर शासन से कईं दफा पत्राचार किया जा चुका है पर उनकी मांगों को दरकिनार किया जा रहा। महासंघ ने इससे नाराज होकर व्यापक आंदोलन का निर्णय लिया है। इस दौरान महासंघ के राजधानी अध्यक्ष वेद प्रकाश बिजल्वाण, प्रांतीय उप महामंत्री चंद्रप्रकाश बड़ोनी, नवनीत गुप्ता और गढ़वाल मंडल अध्यक्ष पुरुषोत्तम दत्त जोशी आदि मौजूद रहे।

छह सितंबर से चल रहा चरणबद्ध आंदोलन

नगर निकाय कर्मचारी छह सितंबर से चरणबद्ध आंदोलन कर रहे। इसमें छह सितंबर से आठ सितंबर तक समस्त नगर निकाय कर्मचारियों ने काले फीते बांधकर काम किया था, जबकि नौ से दस सितंबर तक सुबह दस बजे से 11 बजे तक समस्त नगर निकायों में गेट मीटिंग व धरना प्रदर्शन किया गया। सोमवार यानी 13 सितंबर को समस्त नगर निकाय में कर्मचारी एक दिन के सामूहिक अवकाश पर हैं। वहीं, 16 सितंबर से 18 सितंबर तक समस्त नगर निकायों में क्रमिक धरना-प्रदर्शन किया जाएगा। इसके बाद 20 सितंबर से समस्त नगर निकायों में बेमियादी हड़ताल शुरू कर दी जाएगी।

हरिद्वार : नगर निगम में प्रदर्शन किया प्रदर्शन

निकाय कर्मचारी महासंघ ने नियमितीकरण, पदोन्नति आदि मांगों को लेकर सोमवार को सामूहिक अवकाश लेकर नगर निगम में प्रदर्शन किया। कर्मचारी नेता अखिलेश कुमार शर्मा, इंद्र सिंह रावत, आदेश यादव आदि ने कहा कि जब तक मांगें नहीं मान ली जाती आंदोलन जारी रहेगा। महासंघ नगर निगम शाखा के महामंत्री इंद्र सिंह रावत ने कहा कि मांगे पूरी नहीं हुई तो 16 सितंबर से 18 सितंबर तक क्रमिक धरना किया जाएगा। प्रांतीय आह्वान पर 20 सितंबर से हड़ताल की जाएगी। सामूहिक कार्य बहिष्कार में सुधाकर भट्ट, देव सिंह, प्रवीण कुमार, ललित अरोड़ा, सोनू, मोहन सिंह रावत, कुसुम लता, रामअवतार ,पूजा समेत बड़ी संख्या में कर्मचारी शामिल रहे।

Share this story