विधवा महिला को लोक अदालत से मिला न्याय, 11 साल से भटक रही थी विधवा

विधवा महिला को लोक अदालत से मिला न्याय, 11 साल से भटक रही थी विधवा

नैनीताल : जिले की स्थायी लोक अदालत से 11 साल से भटक रही विधवा को त्वरित न्याय मिला है। शिकायतकर्ता ललिता देवी पत्नी स्व. रमेश सिंह फत्र्याल ने विपक्षी भारतीय जीवन बीमा निगम काठगोदाम जिला नैनीताल के खिलाफ पहली दिसंबर 2020 को स्वर्गीय पति का दुर्घटना बीमा हित लाभ भुगतान न दिए जाने बावत एक प्रार्थना प्रस्तुत किया था। वादी अधिवक्ता पीसी जोशी व विपक्षी बीमा कंपनी के बीच न्यायालय के सम्मुख सुलह-समझौता कराया गया। स्थायी लोक अदालत द्वारा वादिनी को एक लाख 75 हजार रुपये बीमा धनराशि का चेक सुलह के आधार पर दिलवाया गया।

वहीं एक अन्य मामले में शाखा प्रबंधक बजाज फिंसर्व मुंबई व वादी मो. खुर्शीद हुसैन के मध्य समय से पूर्व ही कार्ड ब्लॉक किए जाने बावत स्थायी लोक अदालत में एक प्रार्थना पत्र प्रस्तुत किया गया था। सुनवाई के दौरान दोनों पक्षों के मध्य सुलहवार्ता कराई गई जिसका निष्कर्ष यह निकला कि विपक्षी बजाज फिंसर्व द्वारा वादी का कार्ड अनब्लॉक कर दिया जाएगा। महत्वपूर्ण बात यह रही कि मामले का निस्तारण कम से कम समय के भीतर हो गया। स्थायी लोक अदालत में लोग जन उपयोगी सेवाओं से संबंधित अपनी जन उपयोगी शिकायतें जैसे बीमा सेवा, दूरसंचार, विद्युत, अस्पताल सेवा, जल सेवा, लोक सफाई, भू संपदा, परिवहन, वित्तीय व बैंकिंग आदि सेवाओं से संबंधित मामले दाखिल कर शिकायतों का निवारण जल्दी करा सकते हैं।

Share this story