बदरीनाथ हाईवे पर दर्दनाक हादसा, बाप-बेटे समेत पांच लोगों की मौके पर ही मौत

बदरीनाथ हाईवे पर दर्दनाक हादसा, बाप-बेटे समेत पांच लोगों की मौके पर ही मौत

 चमोली। संवाद सहयोगी, गोपेश्वर (चमोली)। चमोली के पास बदरीनाथ राष्ट्रीय राजमार्ग पर एक कार के खाई में गिरने से उसमें सवार सभी पांच व्यक्तियों की मौत हो गई। मृतकों में पिता-पुत्र भी शामिल हैं। विवाह समारोह से लौट रहे ये सभी लोग रिश्तेदार थे। हादसे का पता सुबह चला। पुलिस ने कड़ी मशक्कत के बाद खाई से शव निकाले।

पुलिस के अनुसार चमोली जिले की नीती घाटी के कौडिय़ा गांव के रहने वाले प्रताप नैथवाल (50), उनका बेटा रजत नैथवाल (23), भतीजा प्रवीन नैथवाल (22) और रिश्तेदार गणेश लाल (29) व शैलेंद्र ङ्क्षहदवाल (32) एक विवाह समारोह में शामिल होने के लिए चमोली के पास भीमतला गांव आए थे। शाम को सात बजे ये सभी स्विफ्ट कार से वापसी के लिए रवाना हुए, लेकिन गांव नहीं पहुंचे। रातभर स्वजन उन्हें फोन करते रहे, मगर कोई जवाब नहीं मिला। इस पर पुलिस को सूचना देने के साथ ही सुबह ग्रामीणों के साथ स्वजन उनकी तलाश में निकले।

चमोली के निकट पीपलकोटी में उन्हें पता चला कि शनिवार शाम उनकी कार यहां से गुजरी थी। इस बीच चमोली से करीब 16 किलोमीटर दूर पाखी नामक स्थान के पास निर्माणाधीन पुल से आगे खाई में कार नजर आई। हादसे की सूचना पर जोशीमठ की एसडीएम कुमकुम जोशी, एसडीआरएफ व आपदा प्रबंधन की टीम मौके पर पहुंची और खाई से शव निकालने का कार्य शुरू किया। छह घंटे की मशक्कत के बाद सभी शव निकाल लिए गए। पुलिस को आशंका है कि रात में चालक पुराने पुल की बजाय निर्माणाधीन पुल की ओर मुड़ गया और कार हादसे का शिकार हो गई।

बदरीनाथ राष्ट्रीय राजमार्ग पर चमोली से 16 किलोमीटर दूर पाखी नामक स्थान पर एक नया पुल बनाया जा रहा है। आवाजाही अभी पुराने पुल से की जा रही है। बदरीनाथ के विधायक महेंद्र भट्ट का आरोप है कि यदि नए पुल को जाने वाले मार्ग पर बैरीकेडिंग लगे होते तो हादसे को टाला जा सकता था। उन्होंने कहा कि ऐसा प्रतीत हो रहा है अंधेरा होने के कारण चालक पुराने पुल के बजाय नए पुल को जाने वाले मार्ग पर मुड़ गया। विधायक ने निर्माण एजेंसी पर लापरवाही का आरोप लगाते हुए कहा कि उन्होंने मुख्यमंत्री को इससे अवगत करा दिया है।

Share this story