प्रदेश की बदहाल स्वास्थ्य व्यवस्था को लेकर कांग्रेस का सांकेतिक उपवास एवं धरना प्रदर्शन

प्रदेश की बदहाल स्वास्थ्य व्यवस्था को लेकर कांग्रेस का सांकेतिक उपवास एवं धरना प्रदर्शन

कोरोना सुरक्षा प्रबंधन में भाजपा नाकाम : प्रीतम सिंह

प्रदेश की बदहाल स्वास्थ्य व्यवस्था को लेकर कांग्रेस का सांकेतिक उपवास एवं धरना प्रदर्शन उत्तराखंड में कोरोना दिन प्रतिदिन भयावह रूप ले रहा है। गत गुरुवार उत्तराखंड कांग्रेस अध्यक्ष प्रीतम सिंह और अन्य कांग्रेस जन ने राजीव भवन के बाहर सांकेतिक उपवास रखकर धरना दिया। प्रीतम सिंह ने कहा कि कांग्रेस कोरोना से जारी जंग में सरकार को पूर्ण सहयोग करने के लिए तत्पर है परंतु सरकार बेसुध होकर निद्रा में सोई हुई है। ना तो इन्हें लोगों की पीड़ा दिखाई दे रही है और ना ही वेंटिलेटर पर पड़ी स्वास्थ्य व्यवस्था को दुरुस्त करने की इनकी कोई मंशा है।

उन्होंने कहा कि अस्पतालों में बेड, वेंटिलेटर और जीवन रक्षक दवाइयों की भारी कमी है। सरकार की नाक के नीचे कालाबाजारी धड़ल्ले से जारी है।

  • प्रीतम सिंह ने कोरोना संक्रमण से प्रदेश में हो रही मौतों का जिम्मेदार राज्य सरकार को ठहराया। कहा कि अस्पतालों में मेडिकल स्टाफ पर्याप्त संख्या में नहीं है। मरीज समय पर ऑक्सीजन न मिल पाने के कारण अपनी जान गवां रहे हैं। हालात बेकाबू हो गए हैं पर सरकारी तंत्र की लचर कार्यशैली जस की तस है।

प्रतिदिन कोरोना के मरीजों की संख्या में होती वृद्धि पर भी प्रीतम सिंह ने चिंता जाहिर की। कहा कि राज्य में कोरोना से होने वाली मौतों की दर देश के राष्ट्रीय औसत से भी अधिक पहुंच गई है। प्रदेश में प्रतिदिन पांच हजार से ज्यादा लोग कोरोना संक्रमित हो रहे हैं।

भाजपा कोरोना को लेकर अभी भी असंवेदनशील बनी हुई है। बिजली दरों में वृद्धि करके आपदा में अवसर तलाश रही है।

ऐसे विकट समय में सरकार को निज हित छोड़कर जन हित को प्राथमिकता देनी चाहिए। इससे पहले कि हालात और भी बदतर हों, तत्काल स्वास्थ्य व्यवस्था को दुरुस्त करने व मरीजों और उनके परिजनों को राहत देने के लिए सरकार द्वारा प्रभावी कदम उठाए जाने चाहिए।

Share this story