रामनवमी के स्नान के लिये प्रशासन ने की तैयारी, 23 सेक्टर में बांटा गया मेला क्षेत्र

रामनवमी के स्नान के लिये प्रशासन ने की तैयारी, 23 सेक्टर में बांटा गया मेला क्षेत्र

हरिद्वार। रामनवमी स्नान पर्व की सुरक्षा व्यवस्था के लिए मेला अधिष्ठान और पुलिस ने पूरी तैयारियां की हैं। स्नान के लिए आने वाले श्रद्धालुओं को कोरोना गाइडलाइन का पालन करना होगा। बाहर से आने वाले श्रद्धालुओं को आरटीपीसीआर की निगेटिव रिपोर्ट अनिवार्य होगी। पुलिस प्रशासन ने कुंभ मेला क्षेत्र को एक सुपर जोन, चार जोन और 12 सेक्टरों में बांटकर पुलिस बल की ड्यूटी लगाई गई है। हर जोन में प्रभारी अधिकारी के तौर पर अपर पुलिस अधीक्षक और सेक्टरों में पुलिस उपाधीक्षक को नियुक्त किया गया है।

कुंभ मेला आइजी संजय गुंज्याल ने बताया कि हरकी पैड़ी, भूपतवाला, ज्वालापुर और ऋषिकेश जोन को मिलाकर एक सुपर जोन बनाया गया है। प्रथम जोन हरकी पैड़ी में सेक्टर हर की पैड़ी, द्वितीय जोन भूपतवाला में भूपतवाला, पंतद्वीप, भीमगोडा, रोड़ी, नीलधारा, तृतीय जोन ज्वालापुर में सेक्टर ज्वालापुर, कनखल, बैरागी कैंप शामिल है। जबकि चौथे जोन ऋषिकेश में ऋषिकेश व मुनिकी रेती सेक्टर को शामिल किया गया है। मेला क्षेत्र में सतर्क दृष्टि बनाए रखने के लिए वर्तमान में मैपिंग किए गए 1150 निजी व संस्थागत कैमरों के साथ-साथ 310 पुलिस कैमरों का प्रयोग भी किया जाएगा।

मेला हेल्पलाइन पर आने वाली कॉल पर तुरंत रिस्पांस के लिए लगातार पारियों में 24 घंटे  पुलिसकर्मियों की ड्यूटी लगाई गई है। मेला एसएसपी जन्मेजय प्रभाकर खंडूरी ने बताया कि श्रद्धालुओं के गंगा में पैर फिसल कर बहने और डूबने की घटनाओं पर अंकुश लगाने के लिए जल पुलिस, एसडीआरएफ और आपदा राहत दल की सम्मिलित ड्यूटी सभी आवश्यक उपकरणों और बोट सहित नौ संवेदनशील स्थानों पर लगाई गई है।

Share this story