मध्य प्रदेश का एक गांव ओरछा, संयुक्त राष्ट्र अवार्ड के लिए नॉमिनेट, बधाई के पात्र पर्यटक विभाग
ओरछा

भारत भूमि सदियों से अपनी सुंदरता और भव्यता के लिए पर्यटको का मनपसंद पर्यटन स्थल रहा है यहां की ऐतिहासिक इमारतें , मनमोहक पर्वत श्रृंखलाएं, नदियां ,झरने पर्यटक को को अपनी तरफ आकर्षित करते रहे हैं। भारत के कोने कोने में सुंदरता बिखरी पडी है ऐसे ही एक सुंदर और मनमोहक पर्यटक स्थल जिसने लोगों का ध्यान अपनी तरफ आकर्षित किया है वह है मध्य प्रदेश ओरछा का एक गांव लडपुरा , मध्य प्रदेश के ओरछा के लडपुरा खास गांव को संयुक्त राष्ट्र विश्व पर्यटन संगठन अवॉर्ड में सर्वश्रेष्ठ पर्यटन गांव श्रेणी के लिए नामित किया है।

यह जानने के बाद CM शिवराज सिंह चौहान ने एक ट्वीट किया है। इस ट्वीट में उन्होंने कहा है कि, 'इस उपलब्धि के लिए पर्यटन विभाग के सभी अधिकारियों और कर्मचारियों को बधाई। हम सभी के लिए ये गर्व का पल है क्योंकि मध्य प्रदेश के गांव लडपुरा खास को सर्वश्रेष्ठ पर्यटन गांव श्रेणी में नामित किया गया है। इस उपलब्धि पर एमपी पर्यटन और प्रशासन की पूरी टीम को मेरी शुभकामनाएं, अच्छा काम जारी रखें।'
वहीं दूसरी तरफ प्रमुख सचिव पर्यटन एवं संस्कृति, शिव शेखर शुक्ला का कहना है कि, 'केंद्रीय पर्यटन मंत्रालय, भारत सरकार ने ओरछा के लाडपुरा खास गांव को सर्वश्रेष्ठ पर्यटन गांव के लिए नामित किया है।' इसी के साथ उन्होंने यह भी कहा कि, 'इसी के साथ दो अन्य गांवों एक मेघालय और दूसरा तेलंगाना से नामांकित किया गया है। पर्यटन के क्षेत्र में नए आयाम जोड़कर ग्रामीण पर्यटन की अवधारणा को आकर देने के लिए ग्रामीण पर्यटन परियोजना की शुरुआत की गई ह
आगे उन्होंने कहा, 'अगले पांच सालों में ग्रामीण पर्यटन की दृष्टि से 100 गांवों का विकास किया जाएगा। इनमें ओरछा, खजुराहो, मांडू, सांची, पंचमढ़ी, तामिया, पन्ना राष्ट्रीय उद्यान, बांधवगढ़ नेशनल पार्क, संजय दुबरी नेशनल पार्क, कान्हा नेशनल पार्क, मितावली और पड़ावली समेत अन्य शामिल हैं।

Share this story