तालिबान पर मेहरबान चीन, अपने खजाने से देगा इतने करोड़ डॉलर की सहायता
jinping

बीजिंग। अफगानिस्तान में तालिबान की सरकार बनने के बाद से ही चीन अफगानिस्तान पर कुछ ज्यादा ही मेहरबान होता दिखाई दे रहा है। तालिबानी सरकार पर उंगलियां उठने पर चीन ने अफगानिस्तान के लिए अपने खजाने के द्वार खोल दिए हैं। चीन अफगानिस्तान की मदद के लिए करोड़ों डॉलर देने के लिए तैयार हो गया है। चीन के विदेश मंत्रालय ने तालिबान की नई कार्यवाहक सरकार 'इस्लामिक अमीरात' का समर्थन करते हुए अफगानिस्तान को 31 मिलियन (3.1 करोड़) अमरीकी डालर की सहायता की घोषणा की।

रिपोर्ट के अनुसार, चीन के विदेश मंत्रालय की प्रवक्ता हुआ चुनयिंग ने कहा कि इस निर्णय की घोषणा अफगानिस्तान के पड़ोसी देशों के विदेश मंत्रियों की पहली बैठक के दौरान की गई थी। इस मदद का इस्तेमाल अफगान लोगों के लिए किया जाएगा।

बता दें कि तालिबान-नियंत्रित अफगानिस्तान को चीन लगभग 3.1 करोड़ डालर मूल्य का भोजन, सर्दियों के सामान, कोरोना के टीके और दवा उपलब्ध कराएगा। चीनी राज्य समाचार एजेंसी सिन्हुआ के अनुसार, चीनी विदेश मंत्री वांग यी ने कहा है कि चीन पहले बैच में अफगानिस्तान को 30 लाख वैक्सीन खुराक देगा। रिपोर्ट के अनुसार, यह स्पष्ट नहीं है कि टीके कब वितरित किए जाने हैं।

वीडियो लिंक के माध्यम से बीजिंग में विदेश मंत्री की बैठक में बोलते हुए वांग ने यह भी कहा कि चीन संयुक्त राज्य अमेरिका और उसके सहयोगी किसी भी अन्य देश की तुलना में अफगान लोगों को आर्थिक और मानवीय सहायता प्रदान करने के लिए अधिक बाध्य हैं। वांग ने कहा कि अमेरिका को अफगानिस्तान की संप्रभुता और स्वतंत्रता का सम्मान करते हुए विकास और स्थिरता को सुनिश्चित करने में मदद करनी चाहिए।

Share this story