वायरल न्यूज़स्पेशल

घर घर ढूंढे जा रहे है पुराने टीवी और रेडियो ,खतरनाक साजिश या कोई मजाक ?

राजसत्ता पोस्ट

आपके आसपास या घर पर किसी पुराने टीवी या रेडियो या फिर पुराने टेलीफोन के विषय मे कोई पूछताछ करे तो सजग हो जाये , असल मे वो आपको उसकी ऐसी कीमत भी अदा करने को तैयार हो सकते है जो आपने सोची नही होगी ।
हर गली , मोहल्ले , गांव में घर घर जाकर इस तरह की पूछताछ शुरू हो गयी है , पर इसका कारण अभी तक एक रहस्य बना हुआ है ।
ऐसा हो रहा है पुराने टीवी, रेडियो, या टेलीफोन में उपस्थित एक एलिमेंट की वजह से , रेड मरकरी यानी लाल पारा

ये रेड मरकरी एक विस्फोटक व ज्वलनशील पदार्थ है , पुराने समय मे इसका प्रयोग इलेक्ट्रॉनिक उपकरणों में किया जाता था , एक कांच के छोटे से कैप्सूल में इस लाल पारे को फिट किया जाता था ,जिसे रेड मरकरी कहा जाता है।

कई आधार पर इसके बारे में भी कई अफवाहें जुड़ी है , कहा जा रहा है इसका प्रयोग किसी परमाणु हथियार या कोविड 19 से जुड़े वैक्सीन में किया जा रहा है , पर इनमें से किसी की अभी तक कोई पुष्टि नही हो सकी है।

आप के आस पास के कबाड़ी , घर घर जाकर ऐसे समानों को खरीदना ओर देखना चाहते है ।

इंटरनेट पर ही इसकी कीमत 10 हजार रुपये प्रति ग्राम से ज्यादा बताई जा रही है और खरीदने वाले इसे मुँह मांगे दाम पर खरीद रहे है , ये सिर्फ आपके शहर मुजफ्फरनगर में ही नही बल्कि दिल्ली ,देहरादून से लेकर छोटे से छोटे गांव तक मे प्रसिद्ध हो चुका है।

राजसत्ता पोस्ट ऐसे किसी तथ्य की पुष्टि तो नही करता की ये सिर्फ एक अफवाह है या इसमें कोई सत्यता है परन्तु हमारे विचार में ऐसा कोई कार्य नही करे जिसका किसी तरह से कोई गैर कानूनी प्रयोग कर सके।