कोविड 19राष्ट्रीय

तीसरी बार में मिली अनुमति तापमान सामान्य न होने के कारण…

नई दिल्ली| दिल्ली मेट्रो की सेवा सोमवार से आम लोगों के लिए शुरू हो गई है, लेकिन यात्रियों के लिए अब सफर उतना आसान नहीं रहा। यात्री मेट्रो में तभी सफर कर सकते है जब वो कुछ मापदंड पर खरे उतर सकें, जैसे तापमान सामान्य होना, कोरोना के लक्षण न दिखना। ऐसे यात्री जिनका तापमान सामान्य नहीं है, मेट्रो उन्हें सफर की इजाजत नहीं दे रहा। यात्रियों को मेट्रो में सफर करने से पहले हर स्टेशन के एंट्री पॉइंट पर थर्मल स्क्रीनिंग और सैनिटाइजेशन से गुजरना होगा। 45 प्रमुख स्टेशनों पर ‘ऑटो थर्मल सह हैंड सेनिटाइजेशन मशीनों’ की व्यवस्था की गई है। बाकी मेट्रो स्टेशंस पर ‘ऑटो सैनिटाइजर डिस्पेंसर्स’ लगे होंगे। इसके अलावा थर्मल स्क्रीनिंग मैनुअली की जाएगी।

जिन यात्रियों में कोविड के लक्षण दिखाई देंगे उन्हें मेट्रो में यात्रा की अनुमति नहीं दी जाएगी। मेट्रो के स्टेशन में दाखिल होते ही आपके बैग को भी सैनिटाइज करने का इंतजाम किया गया है। वहीं मुंह पर मास्क लगाना सभी यात्रियों के लिए जरूरी होगा। ऐसा नहीं करते हैं तो उस यात्री पर कार्रवाई की जाएगी।

गुड़गांव नौकरी करने जा रहे अक्षय (नाम बदला हुआ) जनपथ से पैदल चल कर राजीव चौक मेट्रो स्टेशन पहुंचे, मेट्रो के प्रमुख गेट पर जब उनकी थर्मल स्क्रीनिंग हुई तो उनका तापमान सामान्य नहीं मिला। जिसके बाद वहां खड़े स्टाफ ने उन्हें रोक दिया और इंतजार करने के लिए कहा गया। थोड़ी देर बाद फिर उनका तापनाम नापा गया, लेकिन दूसरी बार भी तापमान सामान्य नहीं मिला। उन्हें फिर अंदर जाने की अनुमति नहीं दी गई।

अक्षय कुछ देर बाद फिर वापस आया और उसने अपना तापमान चेक करवाया। तीसरी बार में यात्री का तापनाम सामान्य मिला, जिसके बाद उन्हें मेट्रो में सफर करने की अनुमति मिली।